केरल की भयानक बाढ़ ग्लोबल वार्मिंग के खास संकेत

0
50

केरल बाढ़ पर संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने कहा: तेजी से हो रहा है जलवायु परिवर्तन 

नई दिल्ली, 08 सितम्बर 2018: केरल की भयानक बाढ़ क्या ग्लोबल वार्मिंग के खास संकेत हैं इस बात को पुख्ता तौर पर प्रमाणित करते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा क़ि केरल में बाढ से तबाही और कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी आग बड़े जलवायु संकट हो सकते हैं और इसे बड़े पैमाने पर रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए।

इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि जलवायु में परिवर्तन ‘हमारे प्रयासों से भी तेज गति से घटित हो रहा है।’ संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, पिछले साल हजारों लोगों की मौत हुई और 320 अरब डॉलर का नुकसान हुआ। जलवायु संबंधित आपदाएं इसकी जिम्मेदार रही।

उन्होंने  बुधवार को यहां ‘2018, नई जलवायु अर्थव्यवस्था रिपोर्ट’ पेश करते हुये गुटेरेस ने कहा, जलवायु परिवर्तन हमारे प्रयासों से भी तेज रफ्तार से घटित हो रहा है। इसके प्रभाव विनाशकारी रहे हैं और सबसे गरीब लोग तूफान, बाढ़, सूखा, जंगल की आग और समुद्र के बढते जलस्तर से सबसे पहले और सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

उन्होंने कहा, इस साल, हमने भारत के केरल में विनाशकारी बाढ, कैलिफोर्निया और कनाडा में जंगल की आग देखी जो उत्तरी गोलार्ध के मौसम के स्वरूप को प्रभावित कर रही है। पिछले 18 साल का रिकार्ड सबसे गर्म साल का रहा और वातावरण में ग्रीन हाउस गैसों की सघनता लगातार बढ़ती जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here