‘मंदी’ शब्द को नहीं स्वीकारती मोदी सरकार: मनमोहन सिंह

0
535
file photo

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने मौजूदा आर्थिक हालत को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. एक कार्यक्रम में मनमोहन सिंह ने कहा कि मौजूदा सरकार ‘मंदी’ जैसे शब्द को स्वीकार नहीं रही है और यही आज की सबसे बड़ी समस्या है. मोदी सरकार को पिछले कुछ दिनों में लगातार आर्थिक मोर्चे पर कई झटके मिले हैं. बेरोजगारी की बढ़ती समस्या के साथ-साथ दुनिया की कई आर्थिक एजेंसियों ने भारत की जीडीपी के अनुमान को घटाया है.

योजना आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया की किताब के लॉन्च पर मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर तीखा हमला किया. मनमोहन सिंह ने कहा कि अगर पहले के योजना आयोग के आधार पर हम विकास की गति को आगे बढ़ाते, तो 2024-25 तक 5 ट्रिलियन इकॉनोमी का सपना पूरा हो सकता था.

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए मनमोहन सिंह बोले कि आज कई मुद्दों पर बातचीत करना जरूरी है, क्योंकि आज की सरकार मंदी जैसे शब्द को स्वीकारती नहीं है. अगर आप मुश्किलों को पहचानोगे ही नहीं तो आप उनका सही जवाब किस तरह ढूंढ पाओगे, यही सबसे बड़ा खतरा है. पूर्व पीएम ने कहा कि सरकार का 8 फीसदी की अधिक गति से विकास को आगे बढ़ाने की सोचना चाहिए, लेकिन इसके लिए दृढ़ इच्छा शक्ति की जरूरत है. इस वक्त देश में टैक्स रिफॉर्म की जरूरत है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here