केन्द्र सरकार आरक्षण को अब नए रूप में लाने की साजिश कर रहा है: अखिलेश यादव

0
489
लखनऊ 11 नवंबर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि पिछड़ों और कमजोर वर्ग के लोगों के हक की लड़ाई लम्बे समय से लड़ी जा रही है। केन्द्र सरकार द्वारा आरक्षण को अब नए रूप में लाने की साजिश हो रही है। समाजवादी किसी का हक छीनना नहीं चाहते हैं। पर यह जरूर चाहते हैं कि आबादी के हिसाब से आरक्षण हो। केन्द्र जाति जनगणना कराकर तय कर सकता है कि किसकी कितनी भागीदारी रखी जाए।
श्री यादव ने कहा कि जिन्होंने गुमराह किया उनसे सावधान रहना हैं। हमने काम के आधार पर वोट मांगा तो उन्होंने बहका दिया लेकिन जो काम हम कर सकते हैं उसे वर्तमान मुख्यमंत्री नहीं कर सकते है। हम एक्सप्रेस-वे बना सकते हैं। मेट्रो चला सकते हैं। उनकी तरह टोटका नहीं कर सकते।
श्री यादव आज समाजवादी पार्टी मुख्यालय लखनऊ में स्थित लोहिया सभागार में जननायक कर्पूरी ठाकुर के चित्र पर माल्यार्पण के पश्चात उनके विचारों की वर्तमान में प्रासंगिकता पर आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में सविता समाज के सैकड़ों लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। इसकी अध्यक्षता पूर्व जिला जज श्री निवास प्रसाद ने की तथा संयोजन श्री संजय कुमार विद्यार्थी ने किया। संचालन श्री अखिलेश सविता ने किया।
इस अवसर पर पूर्व मंत्री सर्वश्री अहमद हसन, रामगोविन्द चौधरी, नरेश उत्तम पटेल, राजेंद्र चौधरी, और एम.एल.सी. एसआरएस यादव, अरविन्द कुमार सिंह की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।
श्री अखिलेश यादव ने कहा श्री कर्पूरी ठाकुर ने ईमानदारी और सच्चाई के रास्ते पर चलकर जो ऊँचाई हासिल की उससे हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने  कहा सविता समाज संगठन को मजबूत करें। आने वाले समय में सविता समाज को सम्मान और चुनाव में टिकट मिलेगा। लेकिन सŸाारूढ़ दल की चालों से इस समाज को सावधान रहना है। समाजवादी सरकार ने कर्पूरी ठाकुर की जयंती पर सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की थी। उनके नाम पर शिक्षा संस्था भी बनाएंगे।
सविता समाज के प्रतिनिधि वक्ताओं ने कहा कि हमारे समाज को समाजवादी पार्टी की आवश्यकता है क्योंकि समाजवादी दर्शन से ही विषमता दूर होगी। वर्तमान सरकारों से मोहभंग की स्थिति में अखिलेश जी ही विकल्प है। नेतृत्व अखिलेश जी का और हमारी ताकत उनके साथ है सविता समाज ने संकल्प लिया कि वे समाजवादी पार्टी के साथ रहेंगे और श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में संघर्ष में शामिल रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here