वन टांगिया राजाराम के घर किया सीएम योगी ने भोजन

0
417

गोण्डा जनपद को मिली 227 करोड़ की सौगात
गोण्डा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को गोंडा का दौरा कर 227 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। सीएम ने गोंडा के लिए सौगातों की बौछार कर वनग्राम अशरफाबाद में वनटांगिया बिरादरी के राजाराम के घर खाना भी खाया। सीएम ने गोंडा में मेडिकल कॉलेज बनावाने की घोषणा की है।
शुक्रवार दोपहर 12.15 बजे के करीब सीएम अपने चॉपर से गोंडा के वनग्राम अशरफाबाद पहुंचे। यहां सबसे पहले वह वन टांगिया राजाराम के घर पहुंचे। सीएम और उनके साथ अन्य नेताओं ने छप्पर के घर में जमीन पर बैठकर पत्तल में खाना खाया और कुल्हड़ में पानी पीया।इसके बाद गांव में ही आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने वन ग्राम अशरफाबाद, मनीपुरग्रंट, बुटहनी व रामगढ़ को राजस्व ग्राम घोषित किया। सीएम ने ऐलान किया कि अशरफाबाद में आश्रम पद्धति विद्यालय बनेगा।
सीएम ने गोंडा को मेडिकल कॉलेज की भी सौगात दी। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज बन जाने से यहां के तमाम लोगों को इलाज के लिए लखनऊ नहीं दौड़ना पड़ेगा। सीएम ने स्वामी नारायण छपिया मंदिर को पर्यटन स्थल घोषित करने के साथ ही इस मंदिर को अयोध्या से जोड़ने के लिए सड़क निर्माण करवाने की भी घोषणा की।
उन्होंने कहा कि गोंडा में बहने वाली चार नदियां टेढ़ी, मनावर, बिसुही और सरयू हम उद्धार करेंगे। मनरेगा सहित अन्य योजनाओं के जरिए इनका कायाकल्प करने के लिए सीएम ने जिला प्रशासन से कार्ययोजना भी मांगी।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को गोंडा का दौरा कर 227 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। सीएम ने गोंडा के लिए सौगातों की बौछार कर वनग्राम अशरफाबाद में वनटांगिया बिरादरी के राजाराम के घर खाना भी खाया। सीएम ने गोंडा में मेडिकल कॉलेज बनावाने की घोषणा की है।शुक्रवार दोपहर 12.15 बजे के करीब सीएम अपने चॉपर से गोंडा के वनग्राम अशरफाबाद पहुंचे। यहां सबसे पहले वह वन टांगिया राजाराम के घर पहुंचे। सीएम और उनके साथ अन्य नेताओं ने छप्पर के घर में जमीन पर बैठकर पत्तल में खाना खाया और कुल्हड़ में पानी पीया।इसके बाद गांव में ही आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने वन ग्राम अशरफाबाद, मनीपुरग्रंट, बुटहनी व रामगढ़ को राजस्व ग्राम घोषित किया। सीएम ने ऐलान किया कि अशरफाबाद में आश्रम पद्धति विद्यालय बनेगा।
सीएम ने गोंडा को मेडिकल कॉलेज की भी सौगात दी। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज बन जाने से यहां के तमाम लोगों को इलाज के लिए लखनऊ नहीं दौड़ना पड़ेगा। सीएम ने स्वामी नारायण छपिया मंदिर को पर्यटन स्थल घोषित करने के साथ ही इस मंदिर को अयोध्या से जोड़ने के लिए सड़क निर्माण करवाने की भी घोषणा की।उन्होंने कहा कि गोंडा में बहने वाली चार नदियां टेढ़ी, मनावर, बिसुही और सरयू हम उद्धार करेंगे। मनरेगा सहित अन्य योजनाओं के जरिए इनका कायाकल्प करने के लिए सीएम ने जिला प्रशासन से कार्ययोजना भी मांगी।
सीएम ने देवीपाटन मंडल के अंतर्गत आने वाले चारों जिले गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर को कनेक्टिविटी बेहतर करने पर भी जोर दिया। इसके लिए उन्होंने तरबगंज में पुल बनवाने का आश्वासन दिया। सीएम ने अपने भाषण में प्रशासनिक अफसरों को भी चेताया। उन्होंने कहा कि काद्यान्न माफिया पर 15 दिन के भीतर ही कार्रवाई करें नहीं तो टाॅप टू बॉटम सभी अफसरों पर कार्रवाई की जाएगी।इसके बाद मुख्यमंत्री ने वनटांगिया परिवारों को आवास पेंशन भू प्रमाण पत्र सौंपा। 70 साल बाद ये अधिकार मिलने से 124 परिवारों को लाभ हुआ। लाभार्थियों के चेहरे की खुशी देखते ही बन रही थी। यहां रहने वाले 112 परिवारों को जमीनों के पट्टे के साथ आवास, शौचालय, पेंशन व दिव्यांगों को ट्राईसाइकिल का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न विभागों की 82 परियोजनाओं का लोकार्पण व 82 नई परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here