हमरे पुरखन कै भाषा अवधी

0
752
file photo
हमरे पुरखन कै भाषा अवधी
दुख-सुख कै परिभाषा अवधी
देस अवध कै माटी चन्नन
गट्टा खील बताशा अवधी !
मंद मंद पुरवाई अवधी
पुरइन अस हलराई अवधी
चिरइन कै कचपच कचपच कच
भोरे कै अउँहाई अवधी!
पुरबी सूक तरइया अवधी
पाछे पियर जोन्हइया अवधी
अम्मा के चूल्हा चौका मा
सोंधी गील कनइया अवधी !
दतुइन दूध कलेवा अवधी
तपता घामै सेवा अवधी
चना चबैना खरमिटाव का
घुघुरी सिखरन मेवा अवधी !
गरमा गरम रजाई अवधी
सगरौ देह ओढ़ाई अवधी
आजी कै कथरी जस गुलगुल
ओढ़ी अउर बिछाई अवधी !
अमरख लाग रोवायी अवधी
पीरा कै गहराई अवधी
आकुल मन चिग्घार परै जब
‘हे माई !’ गोहराई अवधी
अँगना चलै बकइयाँ अवधी
दउरै पइयाँ पइयाँ अवधी
गवना के धूरी माटी मा
मइया लेय बलइया अवधी !
ढुकवल, सुर्र, कबड्डी अवधी
गुल्ली-डंडा, लँगड़ी अवधी
झाबर, गुट्टी एकड़ा दुकड़ा
बाग सियारे क डंडी अवधी !
फरा, गुलगुला, लपसी अवधी
तलखा, अमचुर, अरसी अवधी
गुड़धनिया, गोझिया औ मुचुकी
रिकवछ, सहिना तरसी अवधी
हर मन कै अभिलाषा अवधी।
फगुआ बारहमासा अवधी।
नहछू, सोहर, गावैं नित नित
अमर होय ई भाषा अवधी।।
अरुण कु. तिवारी की वॉल से 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here