सोते समय पसीना आने के पीछे हो सकती खतरनाक बीमारी

0
359

गर्मी के मौसम में हर किसी को पसीना आता है लेकिन कुछ लोगों को बहुत ज्यादा पसीना आता है। खाना खाते, चलते फिरते और खेलते समय पसीना आने के बारे में तो आपने सुना ही होगा लेकिन रात को सोते समय पसीना शायद बहुत कम ही सुना होगा। ऐसा ज्यादातर तभी होता है जब कमरा जरूरत से ज्यादा गर्म हो या आपने ज्यादा कपड़े पहने हों। इसके बावजूद भी आपको ज्यादा गर्मी लगती है तो ये कारण हो सकते हैं….!


हार्मोंस :

हार्मोंस में होने वाली गड़बड़ी के कारण भी यह समस्या हो सकती है। यह महिला और पुरुष दोनों को हो सकती है। इसका पता लगाने के लिए हार्मोंस चेकअप करवाएं। रजोनिवृत्ति या एंड्रोपॉज की वजह से होने वाले हार्मोंस को ठीक करने के लिए अपनी डाइट में सुधार करें तथा विटामिन्स, मिनरल्स, हर्ब्स और अन्य न्यूट्रियन्ट्स मददगार हो सकते हैं।

कैंसर :

रात में पसीना आने की वजह कैंसर होने का संकेत भी हो सकते है लेकिन इसके अलावा अचानक वजन घटना, जल्दी थकान लगना या फिर लसीका ग्रंथियों में सूजन होना आम है।

हाइपोग्लाइसीमिया:

रात को ब्लड शुगर में गिरावट आ जाने से सोते वक्त पसीना आ सकता है। लिवर और एडरिनल्स का ब्लड शुगर हमेशा बैलेंस रहना चाहिए।

बैक्टीरियल या वायरल इंफेक्शन

यह कोई बैक्टीरियल या वायरल इंफेक्शन तो नहीं इस बात का पता आप ब्लड सेल काउंट से करवा सकते हैं। अगर शरीर में वायरल इंफेक्शन है तो वाइटब्लड सेल्स बढ़ जाएंगे। अवसादरोधी दवाओं और मधुमेह रोधी दवाओं के दुष्प्रभाव से भी रात को पसीना आ सकता है। अगर आपको ऐसी समस्या हो रही है तो अपने डॉक्टर से परार्मश लें और दवा बदलवा लें। ऐ सा ज्यादातर तभी होता है जब कमरा जरूरत से ज्यादा गर्म और आपने जरूरत से ज्यादा कपड़े पहने हो। अगर आपको भी रात को बहुत ज्यादा गर्मी लगती है और ज्यादा पसीना होने की वजह से नींद बीच में ही टूट जाती है तो इसके पीछे का कारण यह हो सकता है।

दवा के साइड इफैक्ट्स

अवसादरोधी दवाओं और मधुमेह रोधी दवाओं के दुष्प्रभाव से भी रात को पसीना आ सकता है। अगर आपको ऐसी समस्या हो तो डॉक्टर से परामर्श लें और दवा बदलवा लें

माया सिन्हा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here