आतंकी हमले के खिलाफ भारत की कूटनीतिक जंग जारी: पाक क्रिकेट से भी टूटेगा नाता

0
697

भारत सरकार ने दिए प्रतिबंध के संकेत, कानून मंत्री रविशंकर ने कहा, बहिष्कार कुछ हद तक औचित्यपूर्ण

नई दिल्ली, 21 फरवरी 2019: आतंकी हमले के खिलाफ भारत की कूटनीतिक जंग जारी है। सरकार ने पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के संकेत दिए हैं। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को एक निजी टेलीविजन चैनल से कहा, ‘‘आतंकवाद और क्रि केट साथ-साथ नहीं चल सकता।’ प्रसाद ने कहा, ‘‘विचार तो करना पड़ेगा। ये पप्पियां, झप्पियां और क्रिकेट के छक्के के साथ आतंकवाद के शहीदों की लाशें आना कितने दिन चलेगा।’

केंद्रीय कानून मंत्री ने कहा कि जो लोग आगामी विश्वकप क्रि केट में पाकिस्तान के बहिष्कार की मांग कर रहे हैं वह कुछ हद तक ‘औचित्यपूर्ण’ है क्योंकि पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनों देशों के बीच चीजें सामान्य नहीं हैं। जम्मू कश्मीर में पिछले तीन दशक के सबसे घातक आतंकी हमले में जब से सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए तब से ही यह मांग उठ रही है कि भारत को 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले विश्व कप में पाक से नहीं खेलना चाहिए।

प्रसाद पड़ोसी देश पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध की मांग संबंधी एक सवाल का जवाब दे रहे थे। कानून मंत्री ने कहा, ‘‘हालांकि इस बारे में क्रि केट प्रशासन को अंतिम फैसला लेना है और इसके लिए अंतरराष्ट्रीय प्रक्रिया मौजूद है। क्रि केट के क्षेत्र में भी पाकिस्तान के बहिष्कार की मांग इस मायने में काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि आईसीसी की ओर से विश्व कप प्रतियोगिता अगले कुछ महीनों में आयोजित होनी है।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here