हे राम … सुनकर रो दिए आयुष्मान खुराना 

0

मैं आज बहुत खुश हूँ कि मुझे ’ओम् शांति ओम्’को होस्ट करने का अवसर मिला। आज मुझे पता चला, कि जीवन में धर्म का, ईश्वर का क्या महत्व है: आयुष्मान खुराना

’स्टार भारत’ के धार्मिक गीतों पर आधारित रियलिटी शो ’ओम् शांति ओम्’ में कई ऐसे प्रसंग आ रहे हैं, जो प्रतियोगियों, जजों की और यहाँ तक कि होस्ट तक की आत्मा को झकझोर देते हैं। धर्म के प्रति लोगों की आस्था और विश्वास भी यहाँ खुलकर सामने आ रहा है। ऐसी ही एक घटना तब हुई जब दशहरे के लिए ’ओम् शांति ओम्’ के विशेष एपिसोड की शूटिंग चल रही थी। एक प्रतियोगी ने जगजीत सिंह का लोकप्रिय गीत ’हे राम, हे राम …… जग में सच्चा तेरा नाम …’ गाया तो शो को होस्ट कर रहे अपारशक्ति खुराना की आँखों से आँसू बह निकले।

सभी हतप्रभ थे, कि शो पर हमेशा मस्ती करते रहने वाले अपारशक्ति खुराना को अचानक क्या हुआ? क्यों उनकी आँखों से आँसू बह निकले! इस सवाल का जवाब भी अपारशक्ति ने ही दिया। उन्होंने बताया कि जब मेरे सामने ’ओम् शांति ओम्’ को होस्ट करने का प्रस्ताव आया तो मैं निर्णय नहीं ले पा रहा था, कि मुझे ये करना चाहिए या नहीं ? क्योंकि, मैं नास्तिक नहीं हूँ, पर बहुत ज्यादा धार्मिक भी नहीं हूँ। इसी ऊहापोह में एक दिन मैंने पापा से बात की और अपनी उलझन बताई। इस पर पापा ने कहा, कि तुम्हें ये शो जरूर करना चाहिए। उनकी बात मानकर मैंने ये शो किया और मैं आज बहुत खुश हूँ कि मुझे ’ओम् शांति ओम्’को होस्ट करने का अवसर मिला। आज मुझे पता चला, कि जीवन में धर्म का, ईश्वर का क्या महत्व है।

अपारशक्ति का कहते हैं कि मैं अपने जीवन में हमेशा से ही बहुत सकारात्मक सोच वाला व्यक्ति हूँ। इस शो ने मुझे निश्चित रूप से और अधिक सकारात्मक बना दिया है। मुझे लगता है, कि ईश्वर से जुड़ने का सबसे सही तरीका संगीत ही है और जब जैद अली गाता है तो मैं ईश्वर से कुछ ज़्यादा ही जुड़ा हुआ महसूस करता हूँ, क्योंकि जैद की आवाज में एक मासूमियत है।