अमेरिका में -35 डिग्री सेल्सियस गिरा पारा, जनजीवन बुरी तरह प्रभावित

0
131
फोटो: साभार: गूगल

नई दिल्ली, 08 जनवरी। उत्तर अमेरिका में भी रिकॉर्ड तोड़ सर्दी पड़ रही है। सर्द तूफ़ान ग्रेसन के चलते अमेरिका के कई इलाकों में तापमान माइनस 35 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा है। यहां सर्द हवाएं चल रही हैं, जिसकी वजह से हाड़ कंपाने वाली सर्दी पड़ रही है।

अमेरिका के ईस्ट कोस्ट और मिडवेस्ट में स्थिति सबसे ज्यादा खराब है। ध्रुवीय आर्कटिक से आ रही सर्द हवाओं ने वर्मोंट, न्यूयॉर्क, वर्जीनिया, वेस्ट वर्जीनिया, मैरीलैंड, मेन और न्यू हैम्पशायर में जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। सर्द तूफ़ान ग्रेसन के असर से इतनी ठंड पड़ गई है कि इसे बॉम्ब साइक्लोन भी कहा जा रहा है। भीषण सर्दी की वजह से मशहूर न्याग्रा जल प्रपात भी जम गया है।

यहां तापमान माइनस 23 डिग्री तक गिर चुका है। अमेरिका और कनाडा की सीमा पर स्थित इस जल प्रपात को देखने दुनिया भर से सैलानी आते हैं, लेकिन इन दिनों इसे जमा हुआ देखने के लिए आने वालों की भी कमी नहीं है। मौसम विभाग के मुताबिक कुछ-कुछ साल के अंतर पर सर्दी इतनी भयानक पड़ती है। कुछ ऐसी ही ठंड फरवरी 2015 में भी पड़ी थी।

इन हालात में सर्दियों से बचने के लिए लोगों को ख़ास ऐहतियात बरतने की सलाह दी जा रही है। बर्फ़बारी की वजह से हज़ारों घरों में बिजली पानी की दिक्कत पैदा हो गई है। हज़ारों विमान सेवाओं को रद्द करना पड़ा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here