‘कहत हनुमान…जय श्री राम‘ में मैंने अपनी भूमिका निभाने के लिए कादर खान से प्रेरणा ली: संजय कौशिक

0
40

नारद मुनि की भूमिका को अच्छे से निभाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं

लगभग हर लोकप्रिय पौराणिक कहानी में एक अभिन्न चरित्र के रूप में नारद मुनि अब तक के सबसे आकर्षक और प्रिय पौराणिक पात्रों में से एक रहे हैं। पेनिनसुला पिक्चर्स निर्मित -एंड टीवी का आगामी पौराणिक शो ‘कहत हनुमान…जय श्री राम‘, हनुमान की कहानी कहने के लिए तैयार है। यह शो इस महानतम भारतीय भगवान के बारे में दर्शकों को एक नए दृष्टिकोण से कहानी सुनाएगा।

नारद मुनि की भूमिका को अच्छे से निभाने के लिए संजय कौशिक जिन्होंने अभिनेता राज सिंह की जगह ली है, कोई भी कसर नहीं छोड़ रहे हैं और कड़ी मेहनत कर रहे हैं। इससे पहले संजय ने कई ड्रामा शो में एक्टिंग की है और अब वह पौराणिक शो में अपने कॅरियर की शुरुआत कर रहे हैं। यह शो दर्शकों को एक दिलचस्प पौराणिक यात्रा पर ले जाने के लिए तैयार है जिसमें बताया जाएगा कि कैसे बाल हनुमान भगवान राम के सबसे बड़े भक्त के रूप में उभरते हैं।

इस किरदार को निभाने के बारे में संजय ने कहा, “मैं पौराणिक धारावाहिकों की दुनिया में कदम रखने के लिए काफी उत्साहित हूं, मेरा मानना है कि पौराणिक चरित्रों को निभाना आपको अभिनय के बारे में बहुत कुछ सिखा सकता है जो एक सामान्य चरित्र अक्सर नहीं कर पाता। नारद का चरित्र मेरे लिए एक रोमांचक अवसर है क्योंकि इससे मैं दर्शकों को अपने अभिनय का एक अलग ही नया आयाम दिखा सकता हूँ। पहले भी कई अभिनेताओं द्वारा इस भूमिका को कुशलतापूर्वक निभाया गया है, लेकिन दिग्गज अभिनेता कादर खान की परफाॅर्मेंस मेरा पसंदीदा है और उसी किरदार को निभाने का अवसर मेरे लिए एक छिपी हुई चुनौती है। हालांकि, इस शो के साथ आगे बढ़ने और इस चुनौती की कसौटी पर खरा उतरने के लिए मैं बेहद उत्सुक हूं।

मैं पौराणिक शोज की दुनिया में इतने मजेदार और हल्के-फुल्के स्वभाव के तथा दर्शकों का खूब मनोरंजन करने वाले पात्र के साथ प्रवेश करने को लेकर खासा खुश हूँ। पौराणिक चरित्र या इस शो को निभाने में मेरे सामने क्या-क्या चुनौतियां आ सकती है, उसके बारे में मैंने दो बार नहीं सोचा बल्कि एक ही बार में सीधे इस शो के लिए हामी भर दी। हमने शो के लिए शूटिंग शुरू कर दी है और कुछ ही हफ्तों में मैंने अपने अभिनय में एक नया परिपक्वता स्तर देखा है। मैं आशा करता हूं कि दर्शक इस तरफ ध्यान देंगे और इसकी सराहना करेंगे।”

शक्तिशाली और सर्वोच्च भगवान शिव का अवतार, भगवान हनुमान को एक निश्चित उद्देश्य के लिए उसी अनुसार क्षमता के साथ पृथ्वी पर सबसे शक्तिशाली बनाया गया था। दर्शकों को भगवान शिव और बुराई के प्रतीक अजेय रावण की कहानी की झलकियाँ देते हुए यह शो भगवान हनुमान की उत्पत्ति की कहानी बताएगा, जो कि जो भगवान राम के भक्त हैं और परम पूजनीय समर्पण, सामथ्र्य, और शक्ति के देवता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here