‘राम जन्मभूमि’ फिल्म पर प्रतिबंध लगे: मौलाना कलबे जवाद

0
815

लखनऊ 23 नवंबर 2018: शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी द्वारा बनाई गयी विवादास्पद फिल्म राम जन्मभूमि के भड़काऊं और विवादित ट्रेलर एवं फिल्म मेकिंग में लगाए गए संदिग्ध पैसे की मौलाना कलबे जवाद नकवी ने आज कड़े शब्दों में निंदा करते हुए सरकार से फिल्म रिलीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की।

मौलाना ने जनता को संबोधित करते हुए जुमे के खुतबे में कहा कि 2019 चुनाव से पहले पुरी कोशिश यह हो रही है कि हिन्दू-मुस्लिम और शिया व सुन्नी के बीच फसाद करा दिया जाये।

उन्होंने कहा कि इस फिल्म के ट्रेलर से फसाद का खतरा बढ गया है। अगर सरकार दंगों और फसाद की आग से भारत को बचाकर रखना चाहती है तो इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाया जाये।.मौलाना ने कहा कि इस फिल्म में जो निवेश किया गया है उसकी भी जांच होनी चाहिए। यह व्यक्ति आईएसआई का एजेंट है और उन्हीं के इशारे पर यह ऐसी हरकतें कर रहा ताकि भारत में सांप्रदायिकता की आग भड़काई जा सके, लिहाजा इस फिल्म में हुये निवेश की जांच कराई जाए और इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाया जाये। यदि ऐसा नहीं होता है और फिल्म रिलीज के बाद दंगा भड़कता है तो उसकी सारी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

मौलाना ने कहा कि फैजाबाद में एक हिन्दू महिला के साथ जो दुर्व्यवहार किया गया है उसके अपराधियों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही नही की गई है। अपराधी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन के बहुत करीबी है और अभद्र हरकतों में लिप्त रहा है, लेकिन अब तक प्रशासन की ढिलाई के कारण उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही नहीं हो सकी है। मौलाना ने कहा कि अयोध्या वह महंत कैसे हैं जो ऐसे अपराधी के करीबी दोस्त के साथ बैठ जाते हैं और उसका विरोध नहीं करते है। मौलाना ने कहा कि सरकार वक्फ बोर्ड में हो रहे भ्रष्टाचार की जांच कराये अगर मौजूदा सरकार यह जांच नहीं कराती है तो हम यह समझेंगे कि सरकार भ्रष्ट लोगों के साथ है।

पढ़े इससे सम्बंधित खबर:

वसीम भी हवा में और उनकी फिल्म ‘राम जन्मभूमि’ भी हवा में

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here