अब विश्वनाथ कारिडोर की तर्ज पर विन्ध्यधाम का भी होगा विकास, 350 करोड़ आएंगे खर्च

0
258

लखनऊ, 03 अक्टूबर 2019: अब विन्ध्याचल धाम की पतली गलियों के साथ ही अन्य परेशानियों से भक्तों को जल्द निजात मिलेगा। मां के दरबार से लेकर अन्य धाम के मंदिर भी सजा-संवरा नए रंग रूप में दिखेंगे। इसका कारण है लंबे समय से विन्ध्यवासिनी कारिडोर बनाने की कवायद का इंतजार खत्म हो गया है। योगी सरकार ने नवरात्र में भक्तों को यह तोहफा देते हुए विधानसभा के विशेष सत्र में इसकी घोषणा के साथ ही बजट देने की घोषणा कर दी।

इस पर कुल अनुमानित बजट 350 करोड़ रुपये आएंगे। नवरात्रि के बाद ही इस पर काम शुरू हो जाएगा। इसकी जानकारी देते हुए यूपी सरकार के ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल ने गुरुवार को मीडिया को बताया कि यह कार्य विश्वनाथ कारिडोर की तर्ज पर किया जाएगा। वहां भक्तों को हो रही असुविधाओं को ध्यान में रखते हुए भक्तों को सुविधा पहुंचाने के लिए सरकार ने इसका फैसला लिया है। इसके अंतर्गत मंदिर परिसर के आस-पास के मकानों को हटाया जाएगा। वहां की गलियों का चौड़ीकरण होगा। विस्थापितों को उचित मुआवजा मिलेगा।

यह बता दें की यूपी में भाजपा की सरकार बनने के बाद से ही विन्ध्याचल धाम की व्यवस्थाएं दुरूस्थ करने की आस भक्त लगाए हुए थे। वहां की पतली गलियों के कारण भक्तों को काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ता है। भाजपा सरकार भी इसके लिए काफी दिनों से तैयारी कर रही थी, जिसकी घोषणा बृहष्पतिवार को कर दी गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here