फिल्म पद्मावती का विरोध, शहर बंद कर निकाला जुलूस

0
1240

चित्तौडग़ढ़ । महारानी पद्मिनी को लेकर अगले महीने रिलीज होने जा रही संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती के विरोध में शुक्रवार को चित्तौडग़ढ़ बंद रखा गया। इस दौरान जुलूस भी निकाला गया। फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की बात को लेकर श्रीराजपूत करणी सेना सहित सभी समुदायों के नागरिकों ने इस बंद को समर्थन दिया।
प्रदर्शनकारियों का कहना था कि एक तरफ फिल्म में महारानी पद्मिनी को अलाउद्दीन की प्रेमिका के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है, तो वहीं चित्तौडग़ढ के इतिहास को लेकर लिखी गई किताबों और किवदंतियों में इस बात कही उल्लेख नहीं है कि महारानी पद्मिनी कभी अलाउद्दीन खिलजी से मिली हों। वहीं मलिक मोहम्मद जायसी द्वारा लिखे ग्रंथ में शीशे में खिलजी द्वारा महारानी का चेहरा देखने का जो उल्लेख किया है, वह भी सच्चाई से परे है। संजय लीला भंसाली की फिल्म के प्रदर्शन को रोकने के लिए महारानी पद्मिनी से जुड़ाव रखने वाले चित्तौडग़ढ़ में भी श्रीराजपूत करणी सेना, राजपूत समाज सहित विभिन्न समाज और संगठनों ने विरोध जताया। बंद के दौरान दुर्ग मार्ग से हजारों लोगों ने जुलुस निकालते हुए कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान करणी सेना के संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी, सांसद सीपी जोशी सहित अन्य नागरिक उपस्थित रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here