अब जो पत्रकार भाजपा के खिलाफ लिखेगा वह भी सुरक्षित नहीं: अखिलेश यादव

0
655
file photo

‘मैं तो आपके लिए योजना लेकर आया था कि ताकि आपके हाथ में स्मार्ट फोन हो, लेकिन इन लोगों ने इस योजना को छीन लिया। उन्होंने कहा कि हमारी योजना थी कि लोगों को स्मार्ट फोन देते और साथ ही सरकार की तमाम योजनाओं और लाभ को सीधा इस फोन से जोड़ दिया जाता ‘


लखनऊ 12 सितम्बर। दक्षिणपंथी विचारधारा से प्रभावित पत्रकार गौरी लंकेश की हत्त्या के बाद विवादों में आये संघ और भाजपा के विचारो पर अब समाजवादी पार्टी के नेता व पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने हमला बोलते हुए कहा कि अब जो पत्रकार भाजपा के खिलाफ लिखता है वह अब सुरक्षित नहीं है। कुशीनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने भाजपा और केंद्र सरकार पर तंज कसते यह बाते कहीं।

अपने वक्तय्य में अखिलेश ने कहा कि एक तरफ तो आप डिजिटल इंडिया की बात कर रहे हैं और अगर कोई पत्रकार आपके खिलाफ लिख दे उसकी जान चली जा रही है। बेंगलुरू की एक महिला पत्रकार गौरी लंकेश जिहोंने लिख दिया भाजपा के बारे में, उसकी जान ले ली। अखिलेश यादव ने कहा कि मैं तो आपके लिए योजना लेकर आया था कि ताकि आपके हाथ में स्मार्ट फोन हो, लेकिन इन लोगों ने इस योजना को छीन लिया। उन्होंने कहा कि हमारी योजना थी कि लोगों को स्मार्ट फोन देते और साथ ही सरकार की तमाम योजनाओं और लाभ को सीधा इस फोन से जोड़ दिया जाता।

भाजपा पर हमला करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि बेंगलुरू की महिला पत्रकार गौरी लंकेश ने भाजपा के खिलाफ लिखा, लेकिन उनकी हत्या कर दी गई। अखिलेश यादव ने इस बात की ओर भी इशारा किया कि वह भाजपा को 2019 के लोकसभा के उपचुनाव में हराने के लिए विपक्षी दलों क साथ गठबंधन कर सकते हैं। आपको बता दें कि गोरखपुर और फूलपुर में उपचुनाव होने हैं जहां से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या 2014 में लोकसभा चुनाव जीतकर सांसद बने थे। लेकिन दोनों के यूपी विधानपरिषद के सदस्य चुने जाने के बाद यह सीट खाली हो गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here