अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में बच्चों का टेलेंट देख झूमे दर्शक

0
98

लखनऊ, 17 जनवरी, 2020: सी.एम.एस, लखनऊ की मेजबानी में चल रहे ‘27वें अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर’ का ‘ओपेन डे समारोह’ आज बड़े धूमधाम से कानपुर रोड ऑडिटोरियम में मनाया गया। सी.एम.एस. के डायरेक्टर ऑफ स्ट्रेटजी, श्री रोशन गाँधी ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का विधिवत् उद्घाटन किया।

इस अवसर पर सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने इस अवसर पर कहा कि बच्चों में प्रारम्भ से ही एकता और शान्ति के बीज बोने की परम आवश्यकता है क्योंकि यही भावी पीढ़ी आगे चलकर विश्व का नेतृत्व करेगी।

इस अवसर पर ब्राजील, कैनडा, कोस्टारिका, डेनमार्क, फ्राँस, जर्मनी, इटली, मैक्सिको, नार्वे, स्वीडन, थाईलैण्ड, अमेरिका एवं भारत से पधारे बाल प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक शानदार शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों एवं अपने-अपने देशों के लोकनृत्यों की शानदार प्रस्तुतियां दी। इसके अलावा, बाल शिविर के जूनियर काउन्सलरों ने भी सामूहिक प्रस्तुति से सभी को लुभाया। कैम्प साँग ‘बम-बम बोले’, सी.एम.एस. साँग एवं समूह गान को सभी ने खूब सराहा।

एक प्रेस कान्फ्रेन्स में बाल शिविर के उद्देश्यों की विस्तृत जानकारी पत्रकारों को देते हुए सी.आई.एस.वी. इण्डिया के प्रेसीडेन्ट डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि भाषा व संस्कृति की भिन्नता के बावजूद इन बच्चों ने एकता का अभूतपूर्व वातावरण निर्मित किया है। यह अन्तर्राष्ट्रीय शिविर वास्तव में सारी दुनिया के लिए एक उदाहरण है जो भावी पीढ़ी को मानव मात्र से प्रेम करने की प्रेरणा देता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here