हनी के लिए नहीं बल्कि मनी के लिए रो रहा है बाबा राम रहीम

0
1002

अटकलें लगाई जा रही हैं कि राम रहीम की दौलत हनीप्रीत लेकर भाग गई है। क्योंकि अरबों की संपत्ति के मालिक राम रहीम के सीक्रेट लॉकर से सिर्फ 12 हजार मिलना अपने आप के एक बहुत बड़ा रहस्य बन गया है जिस पर से पुलिस भी पर्दा उठाने में नाकाम रही है


नई दिल्ली 9 सितम्बर। जेल की हवा खा रहे बाबा राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय की तलाशी लेने में जुटी प्रशासन की टीम को फिलहाल कुछ ख़ास हासिल नहीं हो पाया है। तलाशी से पहले अनुमान लगाया जा रहा था कि तलाशी के दौरान पुलिस को राम रहीम की अकूत संपत्ति मिल सकती है लेकिन ऐसा हुआ नहीं है। पुलिस को राम रहीम के सीक्रेट लॉकर से कई प्रॉपर्टी के कागजात और कैश के रूप में सिर्फ 12 हजार रुपये मिले हैं, जिसके बाद से सवाल उठने लगा है कि आखिर बाबा का खजाना गया तो गया कहां। पुलिस को शक है कि राम रहीम को अपने कंगाल होने का अंदाजा हो चुका है और वो हनी के लिए नहीं बल्कि मनी के लिए रो रहा है।

प्रशासन की इस नाकामी के साथ ही सोशल मीडिया पर इस बात के भी चर्चे हो रहे हैं कि बाबा राम रहीम ने भले ही लोगों को बेवकूफ बनाकर यह अकूत संपत्ति इकट्ठा की हो लेकिन रेप मामले में फंसने के बाद हमेशा उनके साथ रहने वाली हनीप्रीत ने उनको बेवकूफ बना दिया है और उनकी अकूत संपत्ति का लेकर चंपत हो गई है।

इस सवाल के साथ ही सोशल मीडिया पर यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि राम रहीम की दौलत हनीप्रीत लेकर भाग गई है। क्योंकि अरबों की संपत्ति के मालिक राम रहीम के सीक्रेट लॉकर से सिर्फ 12 हजार मिलना अपने आप के एक बहुत बड़ा रहस्य बन गया है जिस पर से पुलिस भी पर्दा उठाने में नाकाम रही है। साथ ही पुलिस हनीप्रीत को पकड़ने में भी नाकाम रही है जिसे बाबा का अबसे बड़ा राजदार बताया जा रहा है।

आपको बता दें कि राम रहीम अपनी अय्याशियों पर पानी की तरह पैसे बहाता था। राम रहीम हनीप्रीत की हर ख्वाहिश पूरी करता था और उसके लिए उसने अपने खजाने का मुंह खोल दिया था लेकिन हनीप्रीत की डिमांड कभी खत्म नहीं हुई इसीलिए कहा जा रहा है कि हनीप्रीत ने मौका मिलते ही राम रहीम का खजाना खाली कर दिया और उस खजाने को ठिकाने लगाकर वो गायब हो गई।

बताया जा रहा है कि राम रहीम के एक दिन की कमाई लगभग 16 लाख रुपये थी और वो अपनी पूरी संपत्ति अपने ही देखरेख में रखता था। पूरे डेरे में अगर कोई उसके सीक्रेट रूप में जाता था तो वह हनीप्रीत ही थी। हनीप्रीत को बाबा राम रहीम के सभी राज मालूम थे। यहां तक की हनीप्रीत को राम रहीम के हर सीक्रेट तिजोरी की भी पूरी जानकारी थी।

डेरे में हनीप्रीत के हर हुक्म को राम रहीम का हुक्म माना जाता था। राम रहीम हनीप्रीत के लिए कोई कमी भी नहीं छोड़ता था लेकिन राम रहीम की संपत्ति के तिनके पर भी हनीप्रीत का कोई हक़ नहीं था। यही वजह है कि कहा जा रहा है कि मौका पाते ही हनीप्रीत राम रहीम का खजाना लेकर उड़ गई। वह अभी कहां है इस बात की जानकारी भी किसी को नहीं है।