इनकी नेकदिली पर दुनिया भी कुर्बान!

18
3762

हेमंत पाल

सिनेमा की दुनिया पर अकसर तोहमत लगाई जाती है, कि यहाँ के स्वार्थी होते हैं। कोई किसी का साथ नहीं देता और चढ़ते सूरज का तिलक किया जाता है। कुछ मामलों में ये बात सही भी है! पर, कुछ लोग इससे अलग भी हैं, जो दूसरों का दर्द समझते हैं और मदद का हाथ बढ़ाने से पीछे नहीं रहते! जिंदादिल फिल्मकारों से जुड़े ऐसे कुछ किस्से, जो बताते हैं कि सिनेमा की दुनिया उतनी बुरी भी नहीं, जितनी समझी जाती है।

मोहम्मद रफी एक बार गाने की रिकार्डिंग के लिए स्टूडियों की लिफ्ट से ऊपर जा रहे थे। उस रिकॉर्डिंग स्टूडियो का पुराना लिफ्ट मैन रफ़ी साहब को जानता था। उसने मोहम्मद रफी की तरफ शादी का कार्ड बढ़ाते हुए कहा ‘मेरी बेटी की शादी है, आप आइएगा।’ रफी साहब ने अनमने से कार्ड ले लिया, उसकी तरफ देखा भी नहीं। लिफ्ट मैन ने भी इसे कमजोर लोगों की नियति मान लिया और चुप हो गया। करीब घंटेभर बाद मोहम्मद रफी रिकार्डिंग करके लौटे! वापसी में उसी लिफ्ट मैन से पूछा ‘शादी किस दिन है, ये कहते हुए एक लिफाफा उसके हाथ में दिया।’ रफी के इस बदले व्यवहार को वो समझ नहीं पाया! थोड़ी देर बाद फिल्म के निर्देशक ने कहा कि रफी साहब से गुस्सा मत होना! उस समय वे रिकार्डिंग के लिए जा रहे थे, इसलिए उनका ध्यान केवल गाने पर था। लेकिन, जब गाने की रिकार्डिंग हो गई तो मुझसे कहा कि मेरी फीस में अपना पैसा भी मिलाइए नीचे लिफ्ट मैन की बेटी की शादी है।

जाने-माने गायक मुकेश के घर के पास एक प्रेस की दुकान थी। वह प्रेस वाला अकसर अपने साथियों से कहता था कि मुकेशजी उससे आते-जाते बात करते हैं, मेरी उनसे दोस्ती है। जब उस प्रेस वाले की लड़की की शादी तय हुई, तो लोगों ने कहा कि मुकेशजी को क्यों नहीं बुलाते, वो तो तुम्हारे दोस्त हैं! उसने झिझकते हुए शादी का निमंत्रण मुकेशजी को दे दिया। उसने सोचा नहीं था कि वास्तव में मुकेशजी उसकी बेटी की शादी में आएंगे। शादी के दिन मुकेशजी जब वे सांजिदों के साथ मंडप में पहुंचे, तो वह घबरा गया। उसे लगा कि उसने मुकेशजी को गाने के लिए थोडी बुलाया था। वह मुकेशजी के पास गया और कहने लगा ‘आपको तो बस आने के लिए कहा था, बेटी की शादी है आपके गाने का ख़र्चा कैसे दे पाऊंगा। ऊपर से तबला, बाँसुरी और सारंगी अलग।’ मुकेशजी ने कहा कि तुम्हारी बेटी क्या मेरी बेटी नहीं। तुमसे पैसा कौन मांग रहा है। मैं तो बारातियों को गाना सुनाने आया हूँ। मुकेशजी ने उस शादी में देर रात तक गीत गाए। देर रात जब वे घर लौटे तो बेटे नितिन से कहा कि वहाँ गाने में इतना सुकून मिला, जितना अाजतक रिकॉर्डिंग में भी नहीं मिला! मुकेशजी ने वहाँ सिर्फ गाने ही नहीं गाए, उस बेटी को तोहफे में अच्छे-खासे पैसे भी देकर आए थे।

मुकेशजी अकसर सर्दियों की रात दिल्ली में कार से सड़क पर निकलते और फुटपाथ पर सोते भिखारियों को कंबल ओढ़ा देते थे। एक बार एक भिखारी ने उन्हें ऐसा करते पहचान लिया, लेकिन कहा कुछ नहीं। बस, उनका एक गीत ‘दुनिया मैं तेरे तीर का या तक़दीर का मारा हूँ’ गाने लगा। मुकेशजी ने कहा ये गीत तुमने कहाँ सुना? भिखारी ने कहा हमारी किस्मत में ये कहाँ कि मुकेशजी हमें ये गीत सुनाएं या हम उनके प्रोग्राम में जाएं। इस पर मुकेशजी ने कहा कि यहीं रहना मैं लौटकर आता हूँ। मुकेश वापस आए तो उस भिखारी के लिए अपने शो के चार टिकट लाएं, साथ में तीन सौ रुपए दिए और कहा ‘परसों मुकेशजी का कार्यक्रम है वहाँ आ जाना।’ भिखारी ने पांव छू लिए और कहा ‘मैं आपको पहचान गया था, पर हिम्मत नहीं थी, इसलिए आपका गीत गा दिया।’

मीना कुमारी बहुत अच्छी शायरा थी, लेकिन कभी मंचों पर नहीं गाती थी। एक बार किसी ने कहा कि सैनिको के लिए कवि सम्मेलन है, आप कभी मंच पर नहीं आतीं, पर हो सके तो सैनिकों के लिए आइए! मामला सैनिकों का था तो मीनाजी वहाँ गईं भी और कविताएं भी पढ़ी! उन्होंने कविता के लिए पैसा लेना तो दूर, अपनी तरफ से सैनिक कल्याण कोष में अच्छी खासी रकम दे आईं।

– hemantpalkevichar.blogspot.com से साभार

18 COMMENTS

  1. Ignatius Piazza, the Millionaire Patriot, wants you to see the most awe inspiring reality show series ever,
    called Front Sight Challenge. “Because you’re here reading this article online flash games report now only at that particular point in time; everything you have is “The first movers advantage” for yourself to take a your hands on now. The plastic’s name can often be abbreviated to CR-39, standing for Columbia Resin, and it’s also fewer than half the weight of glass, which supplanted quartz within the early twentieth century.

  2. My spouse and I absolutely love your blog and find many of
    your post’s to be just what I’m looking for.
    Do you offer guest writers to write content
    available for you? I wouldn’t mind producing a post or elaborating
    on some of the subjects you write related to here. Again, awesome site!

  3. Greetings! I know this is kind of off topic but I was wondering which blog platform are you using for
    this website? I’m getting tired of WordPress because I’ve
    had problems with hackers and I’m looking at alternatives for another
    platform. I would be fantastic if you could point me in the direction of a good platform.

  4. I do not even know how I ended up here, but I thought this post was great.
    I don’t know who you are but definitely you are going to a famous blogger if you are not already 😉 Cheers!

  5. Wonderful beat ! I wish to apprentice while you amend your site, how could i subscribe for a weblog web site?

    The account helped me a acceptable deal. I have been tiny bit familiar of this your broadcast offered shiny clear concept

  6. I believe what you published was actually very reasonable. However, consider this, suppose you added a
    little content? I mean, I don’t want to tell
    you how to run your website, but suppose you added a headline that grabbed folk’s attention? I mean इनकी नेकदिली पर दुनिया भी कुर्बान!
    | Shagun News India is a little plain. You could glance at Yahoo’s front page
    and note how they write post headlines to grab people interested.

    You might add a related video or a picture or
    two to grab people excited about everything’ve written. In my opinion, it would bring your website a little livelier.

  7. Index Search Villas and lofts to rent, search
    by region, find in minutes a villa to book by city, a range of
    rooms lofts and villas. Be afraid of the photos and data that the site has to offer you
    you. The website is a center for every body the ads while in the field,
    bachelorette party? Use a buddy who leaves Israel?

    It doesn’t matter what the main reason you will need to rent
    a villa for the two event or simply an organization recreation suitable for any age.
    The site is also the middle of rooms from the hour,
    which is another subject, for lovers who are seeking a luxurious room equipped for discreet entertainment with a
    spouse or lover. It doesn’t matter what you are looking for, the 0LOFT website produces a seek out
    you to find rentals for loft villas and rooms throughout Israel, North South and Gush Dan.

  8. With havin so much written content do you ever run into any issues of plagorism or copyright
    infringement? My website has a lot of completely unique content I’ve either authored myself or outsourced but it
    looks like a lot of it is popping it up all over the internet without my agreement.
    Do you know any ways to help protect against content from being stolen? I’d
    genuinely appreciate it.

  9. I don’t know if it’s just me or if everybody else experiencing issues
    with your website. It seems like some of the written text within your
    posts are running off the screen. Can someone else please
    provide feedback and let me know if this is happening to them too?
    This may be a problem with my web browser because I’ve had this happen before.

    Thanks

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here