चीन और भारत के बीच युद्ध का काउंटडाउन शुरू: चाइना डेली

0
806
file photo

भारतीय सेनाएं देश की सुरक्षा के लिए हर चुनौती का सामना कर सकती हैं:अरुण जेटली

डोकलाम में बढ़ते तनाव और लगातार धमकियों के बीच इंडिया ने चीन को कड़ा मैसेज दिया है। चाइना डेली अखबार के संपादकीय में लिखा गया है कि चीन और भारत के बीच युद्ध का काउंटडाउन शुरू हो गया है। इसके आगे लिखा गया है कि भारत को अब जल्द इस दिशा में कोई कदम उठा लेना चाहिए, क्योंकि शांतिपूर्ण समाधान की संभावनाएं खत्म होती जा रही हैं। चीन के सरकारी मीडिया और सरकार के साथ सुर मिलाते हुए संपादकीय में भी भारत को डोकलाम से अपनी सेना हटाने की हिदायत दी गई है। इसमें लिखा गया है कि डोकलाम समस्या का समाधान दिल्ली के हाथों में है और डोकलाम से बिना शर्त जवानों को हटाकर हालात सामान्य किए जा सकते हैं।

अरुण जेटली ने राज्यसभा में कहा, “भारतीय सेनाएं देश की सुरक्षा के लिए हर चुनौती का सामना कर सकती हैं। हमने 1962 की लड़ाई से सबक लिया। बीते दशकों के दौरान भारत ने कई चुनौतियों का सामना किया। 1965 और 1971 की जंग से हमारी सेनाएं मजबूत हुई हैं।”

बता दें कि सिक्किम सेक्टर में भूटान ट्राइजंक्शन के पास चीन एक सड़क बनाना चाहता है और भारत इसका विरोध कर रहा है। करीब 2 महीने से इस इलाके में भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने हैं। चीन ने भारत से कहा है कि वह इलाके से अपने सैनिकों को तुरंत वापस बुलाए, लेकिन भारत ने इससे इनकार कर दिया है।

चीन ने भारत को चेतावनी देते हुए कहा है कि भूटान के सीमावर्ती डोकलाम से भारत ने अपनी सेना नहीं हटाई तो गंभीर परिणाम होंगे। उल्लेखनीय है कि डोकलाम को चीन डोंगलांग कहता है और दावा करता है कि वह उसका इलाका है। भारत बार-बार चीन से कह रहा है कि वह अपनी सेना डोकलाम से हटा ले। भारत और भूटान दोनों का ही कहना है यह कि डोकलाम भूटान की धरती है। लेकिन चीन यह सुनने को कतई तैयार नहीं है। भारत ने चीन को डोकलाम में सड़क बनाने से रोकने के लिये जून मध्य से वहां अपनी सेना तैनात कर रखी हैं।