बहला-फुसला कर दिन दहाड़े युवती को किया अगवा

0
58

लखनऊ 08 जनवरी, 2020: रायबरेली रोड, एल्डिको कालोनी से वरिष्ठ लेखक और पत्रकार प्रदीप कुमार सिंह पाल की छोटी बेटी एकता पाल (35 वर्ष) अपने घर से 3 जनवरी 2020 की सायं 4.30 बजे गायब हो गई। इस बारे में लड़की के पिता प्रदीप कुमार का कहना है कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने खुद को सरकारी नौकरी में बताकर मानसिक रूप से अपनी उम्र के सामान्य युवती की तरह न होने के कारण मासूम बेटी एकता पाल को गुमराह करके घर से दूर किसी अज्ञात स्थान पर बुलाकर उसे अगवा कर लिया है। इससे पहले उसने अगवा की हुई युवती से संदेहास्पद पत्र भी लिखवाया जिसमें युवती के द्वारा सरकारी नौकरी करने वाले युवक से शादी करने की बात लिखी है। पत्र में युवक का नाम, पता आदि कुछ भी नहीं लिखा गया है।

युवती के पिता प्रदीप कुमार ने घटना की अगली सुबह 4 जनवरी को थाना पी.जी.आई. जाकर बेटी द्वारा लिखा पत्र पुलिस के सुपुर्द किया। पुलिस ने मामले की रिपोर्ट गुमशुदगी में एफआईआर दर्ज कर ली।

बताया जाता है कि किसी भी सम्भावित पुलिसिया सख्त कार्यवाही से बचने के लिये 6 जनवरी की प्रातः 10 बजे अभियुक्त (अज्ञात) द्वारा युवती के घर पर भाई विश्व पाल के मोबाइल पर किसी दूसरे के मोबाइल से फोन आया जिसमें युवती के घर पर अपने भाई से उस अनजान युवक से शादी की बात कहते हुये दो-तीन दिन में घर वापस आने की बात कही जबकि भाई विश्व पाल का कहना है कि बात करते हुये वह काफी डरी हुई और असहज प्रतीत हो रही थी। ऐसा लग रहा था कि उस पर दबाव डालकर यह फोन करवाया गया है।

मोबाइल नम्बर के बारे जानकारी करने पर वह बंथरा, कानपुर रोड, लखनऊ के किसी सब्जी बेचने वाले का निकला जिसका कहना है कि किसी शख्स ने अपने पास मोबाइल न होने की बात कह कर उसे मोबाइल करने के लिये माँगा था। इस घटना से इस बात की आशंका और बढ़ जाती है कि वह किसी शातिर किस्म के अपराधी के चंगुल में फंस गई है। यह मामला अब किसी एक थाने तक सीमित न होने के कारण पीडित परिवार ने 7 जनवरी को एस.एस.पी. लखनऊ सिटी से मिलकर उन्हें पूरे मामले से लिखित में अवगत कराया। उन्होंने त्वरित कार्यवाही करने का भरोसा परिवार को दिया है।

परिवार को अंदेशा: हो सकती है बेटी के साथ कोई भी अनहोनी?

परिवारजनों का कहना है कि पुलिस द्वारा यदि त्वरित कार्यवाई नहीं की जाती है तो उनकी बेटी के साथ कोई भी गम्भीर घटना एवं दुर्घटना हो सकती है। युवती के पिता का यह भी कहना है कि उनकी बेटी मानसिक रूप से सामान्य बच्चों की तरह की नहीं है जिसकी वजह से अनहोनी की आशंका बहुत अधिक बढ़ जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here