एपिक ने दुनिया की सबसे बड़ी डाक सेवा- ‘इंडिया पोस्ट’ पर नए शो की घोषणा की

0
271

टीवी पर लगातार एकमात्र भारत केंद्रित इंफोटेनमेंट डेस्टिनेशन बने रहने वाला, एपिक चैनल, भारत की कहानियों का प्लेटफॉर्म बनने में सबसे आगे रहा है। तथ्यात्मक मनोरंजन सामग्री बनाने में एपिक की प्रतिबद्धता ने न केवल दर्शकों का भरोसा हासिल किया है, बल्कि एपिक चैनल ने इंडियाज़ स्टोरीटेलर्स का टैग भी प्राप्त किया है। प्रगति की राह पर चलते हुए, एपिक चैनल – इंडिया का अपना इंफोटेनमेंट जल्द ही दुनिया के सबसे बड़े पोस्टल नेटवर्क – इंडिया पोस्ट पर कहानी लेकर आ रहा है।

150 से अधिक वर्षों से इंडिया पोस्ट देश को एक साथ बांधे रखने वाला संगठन बना हुआ है। इसने देश के सामाजिक-आर्थिक विकास और सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 1764 में औपनिवेशिक ताकतों की एक सेवा के रूप में शुरू हुआ, इंडिया पोस्ट आज वैश्विक डाक प्रणाली के एक चौथाई भाग पर मौजूद है। समय के साथ बदलते हुए, इस सक्रिय संगठन के हिस्से में कई रिकॉर्ड हैं, और यह सेवा देश के किसी भी कोने तक पहुंच सकती है। पौराणिक कथाओं के युग से लेकर प्रौद्योगिकी के इस युग तक, मैनुअल से डिजिटल में परिवर्तन होने तक, और बिना पते की चिट्ठी पहुंचाने से लेकर विशेष अवसरों का स्मरण करने तक, इंडिया पोस्ट की कहानी अद्भुत कार्यो और दिल को छू लेने वाली कहानियों का संग्रह है।

लेकिन अपने अनगिनत योगदानों के बावजूद, इंडिया पोस्ट की कहानी को कभी ऐसा मंच नहीं मिला, जिसकी वह हकदार है। इंडियाज़ स्टोरी टेलर्स के रूप में, एपिक एक सीमित सिरीज बनाने की प्रक्रिया में है जो देश भर के दर्शकों को इंडिया पोस्ट की कहानी बतायेगी।

शो के बारे में बताते हुए, अरुंधति घोष, सदस्या, ऑपरेशंस, पोस्टील बोर्ड, इंडिया पोस्ट ने कहा कि “हम यह दिखाने के लिए उत्साहित हैं कि इस देश के नागरिकों के लिए दुनिया के सबसे बड़े पोस्टल नेटवर्क को चलाने में क्या परिश्रम लगता है। हमें खुशी है कि एपिक चैनल ने इंडिया पोस्ट की विरासत और इनोवेशन और पूरे देश की पोस्ट ऑफिस की दिलचस्प कहानी को पेश करने की पहल की है। यह निश्चित रूप से अपनी तरह का एक विशेष शो होगा! ”

घोषणा पर टिप्पणी करते हुए, तस्नीम लोखंडवाला, हेड – कंटेंट और प्रोग्रामिंग, एपिक चैनल, ने कहा कि “इंडिया पोस्ट ने कई तरीकों से भारतीय नागरिकों के जीवन को छुआ है। संचार से लेकर वित्तीय समावेशन तक का चैनल होने के कारण, यह संस्था कई लोगों के लिए आशा की किरण है, जो आज तक आधुनिक दुनिया से दूर हैं। यह बहुत गर्व की बात है कि हमें इस विशाल उद्यम के विभिन्न पहलुओं और इसके आंतरिक कामकाज को सामने लाने का अवसर मिल रहा है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here