यदि भारत अपने सैनिक नहीं हटाता है तो चीन करेगा छोटे पैमाने पर ‘मिलिट्री ऑपरेशन’: ग्लोबल टाइम्स

0
file photo

डोकलाम विवाद को लेकर चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स ने एक बार फिर युद्ध की आशंका जाहिर की है उसने लिखा हैं यदि भारत सिक्किम के डोकलाम एरिया पर अपने सैनिक नहीं हटाता है तो चीन को छोटे पैमाने पर मिलिट्री ऑपरेशन कर सकता है उसने लिखा है कि चीन के एक एक्सपर्ट ने बीजिंग की तरफ से छोटे पैमाने पर ‘मिलिट्री ऑपरेशन’ की आशंका जताई है। एक्सपर्ट ने कहा है, चीन डोकलाम में लंबे वक्त तक गतिरोध बने रहने की इजाजत नहीं दे सकता।

पहले भारत की फॉरेन मिनिस्ट्री को इन्फॉर्म भी करेगा चीन: 

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में शनिवार को पब्लिश एक आर्टिकल में चीनी एक्सपर्ट हू झियॉन्ग ने यह कमेंट किया है। अखबार ने इस आर्टिकल को ‘मिलिट्री क्लैशेज पॉसिबल एज बॉर्डर स्टैंड ऑफ ड्रैग्स ऑनÓ टाइटल दिया है। इसके मुताबिक चीनी एक्सपर्ट ने पिछले 24 घंटे के दौरान डोकलाम विवाद पर आए 6 मंत्रियों और इंस्टीट्यूशंस के बयान के बाद छोटे पैमाने पर मिलिट्री ऑपरेशन की आशंका जताई है। इनके मुताबिक चीन अपना मिलिट्री ऑपरेशन शुरू करने से पहले भारत की फॉरेन मिनिस्ट्री को इन्फॉर्म भी करेगा।

क्या है डोकलाम विवाद?
  • ये विवाद 16 जून को तब शुरू हुआ था, जब इंडियन ट्रूप्स ने डोकलाम एरिया में चीन के सैनिकों को सड़क बनाने से रोक दिया था। हालांकि चीन का कहना है कि वह अपने इलाके में सड़क बना रहा है।
  • इस एरिया का भारत में नाम डोका ला है जबकि भूटान में इसे डोकलाम कहा जाता है। चीन दावा करता है कि ये उसके डोंगलांग रीजन का हिस्सा है। भारत-चीन का जम्मू-कश्मीर से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक 3488 km लंबा बॉर्डर है। इसका 220 km हिस्सा सिक्किम में आता है।
अखबार द्वारा जारी किया ग्राफिक
  • आर्टिकल में कहा गया है कि तिब्बत के ऑटोनॉमस रीजन डोकलाम में सैन्य गतिरोध पर गुरुवार से लेकर शुक्रवार तक 2 मिनिस्ट्रीज और 4 इंस्टीट्यूशंस ने बयान जारी किए हैं।
  • यह गतिरोध करीब 2 महीने से जारी है और अभी इसके खत्म होने के कोई आसार नहीं हैं।
  • न्यूजपेपर ने आर्टिकल के साथ एक ग्राफिक भी जारी किया है। इसे ‘द फैक्ट्स एंड चाइनाज पोजीशन कन्सर्निंग द इंडियन बॉर्डर ट्रूप्सÓ टाइटल दिया है।
  • आर्टिकल के मुताबिक भारतीय सैनिकों ने सिक्किम सेक्टर में चीन के क्षेत्र में घुसपैठ की है।