पत्रकारों के उत्पीडन की घटनाएं दिनों दिन बढ़ना चिंताजनक: आईएफडब्ल्यूजे

0
644

पत्रकारों को अब एकजुटता का परिचय देने का समय आ गया है

लखनऊ, 28 अक्टूबर। आईएफडब्ल्यूजे के 68 वें स्थापना दिवस पर आज उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में काफी संख्या में मौजूद पत्रकारों ने संगठन की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि पत्रकारों की समस्याओं वेजबोर्ड लागू कराने और उनपर होने वाले उत्पीडन और हमलों जैसे मसलों को लेकर हमेशा संघर्ष किया है और यही संगठन की ताकत रही है।
स्थापना दिवस के इस मौके पर मौजूद दर्जनों पत्रकारों ने अपने विचार करते हुए कहा कि मौजूदा समय में पत्रकारों के सामने जहां लेखन से जुडी चुनौतियों के साथ-साथ उत्पीडन की घटनाएं दिनो दिन बढती जा रही हैं पर चिंता व्यक्त करते हुए पत्रकारों का आहावन किया कि वे एकजुटता का परिचय दें।
इस अवसर पर वरिष्ठ  पत्रकार भाष्कर दूबे, मो ताहिर, मो. कामरान, नावेद शिकोह, नायला किदवई, तमन्ना फरीदी, शबाहत हुसैन विजेता, रंजीत गुप्ता, नसीमुलाह खान, अजय त्रिवेदी, इन्द्रेश रस्तोगी,वरुण मिश्र, राजेश मिश्र, सचिन शर्मा सहित मौजूद अनेक पत्रकारों भी अपने विचार व्यक्त करते हुए संगठन और पत्रकारों की एकजुटता पर बल दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here