उन्‍नाव के दोषी भाजपा विधायक को मिले फांसी की सजा: पप्‍पू यादव

0
84

बलात्‍कार के मामलों के लिए पटना में बने स्‍पेशल कोर्ट, एक महीने में मिले दोषियों को सजा, उन्‍नाव की पीडि़ता के लिए अंतिम दम तक लड़ेंगे लड़ाई

पटना, 01 अगस्त 2019: उत्तर प्रदेश के उन्‍नाव पीडि़ता के साथ हुए दुष्‍कर्म, उनके परिजनों की हत्‍या और भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को फांसी की सजा की मांग को लेकर जन अधिकार पार्टी (लो)  ने पटना के का‍रगिल चौक पर शांतिपूर्ण तरीके से आक्रोश जाहिर करते हुए जन अधिकार महिला परिषद की प्रदेश अध्‍यक्ष आभा राय के नेतृत्‍व में कैंडल मार्च निकाला। इसमें पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सह पूर्व सांसद पप्‍पू यादव भी शामिल हुए, जिन्‍होंने पत्रकारों से बातचीत में भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला और उन देश में सर्वधर्म समभाव की संस्‍कृति पर वैमनष्‍यता का दाग लगाने का आरोप लगाया। साथ ही उन्‍होंने पटना में बलात्‍कार जैसे मामलों में स्‍पेशल कोर्ट बना कर एक महीने में दोषियों को सजा दिलाने की मांग की।

पप्‍पू यादव ने कहा कि उन्नाव बलात्कार व पीड़िता के पूरे परिवार को प्रताड़ित करने के मामला सत्ता के सरंक्षण के बिना सम्भव नहीं है। बलात्कार की पीड़िता की हत्या का प्रयास इस तथाकथित दुर्घटना से देश-प्रदेश की हर एक माँ, बहू, बेटी, बहन गहरे आघात में है। महिलाओं में इस घटना को लेकर जो रोष-आक्रोश है वो दोहरे चरित्रवाली सत्ता को बहुत मंहगा पड़ेगा। उन्‍होंने कहा कि इस केस में चल रही CBI जाँच कहाँ तक पहुँची? भाजपा के आरोपी विधायक की विधानसभा की सदस्‍यता अभी तक क्यों रद्द नहीं हुई? पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढिलाई क्यों? इन सवालों के जवाब बिना क्या भाजपा सरकार से न्याय की कोई उम्मीद की जा सकती है?

उन्‍होंने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर कार्रवाई में देरी को लेकर भी सवाल खड़े किये और कहा कि दा‍गी और अपराधियों को संरक्षण देना भाजपा की परंपरा बन चुकी है। तभी तो आज तक साध्‍वी प्रज्ञा, कैलाश विजयवर्गीय के बेटे जैसे लोगों पर अब तक कठोर कार्रवाई क्‍यों नहीं हुई। उन्‍हें पार्टी से बाहर का रास्‍ता क्‍यों नहीं दिखाया गया। पूर्व सांसद ने कहा कि देश के 90 प्रतिशत रसूखदार नेता बेटियों की अस्मिता से खिलवाड़ करते हैं। चाहे वो मामला यूपी का हो या बिहार का। हर जगह शासन प्रशासन के साये में बेटियों की इज्‍जत से खिलवाड़ हो रहा है। इसलिए हम मांग करते हैं कि उन्‍नाव मामले में भाजपा के दो‍षी विधायक को फांसी की सजा मिले और पटना में बलात्‍कार जैसे मामलों के लिए स्‍पेशल कोर्ट की स्‍थापना हो, जहां एक महीने में दोषियों के उपर कार्रवाई जाये।

कैंडल मार्च में पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद, प्रदेश अध्यक्ष रघुपति सिंह, राष्ट्रीय महासचिव सह प्रवक्ता प्रेमचंद सिंह, राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू, प्रदेश प्रधान महासचिव सूर्य नारायण सहनी, प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता श्याम सुंदर, मो अली,  प्रदेश महासचिव शंकर पटेल, संदीप सिंह समदर्शी, युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष बबन कुमार यादव,  छात्र परिषद प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनंद,  महिला परिषद की शीतल गुप्ता, प्रिया राज,  छात्र परिषद के शौकत अली, अरविंद यादव, मनीष यादव,  रजनीश तिवारी, ब्रजेश यादव, आनंद कुमार समेत सैकड़ों की संख्या में छात्र-युवा एवं महिलाएं शामिल थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here