धूल भरी आंधी को लेकर प्रदेश के13 जिलों में हाई अलर्ट

0
416

लखनऊ। धूल भरी आंधी यूपी के लिए खतरा बन सकती है। मौसम विभाग ने रविवार को ताजा चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि अगले दो दिनों में उत्तर प्रदेश के 13 जिलों में अलग-अलग जगहों पर तूफान और धूल भरी आंधी का खतरा है।मौसम विभाग ने तूफान व धूर भरी आंधी का अलर्ट उत्तर प्रदेश के बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, हरदोई, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली, रामपुर, मुरादाबाद, मेरठ, बिजनौर, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर जिलों के लिए जारी किया है। मौसम विभाग ने प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश की संभावना भी जताई है।
याद दिलाते चलें कि इस हफ्ते के अंत में धूल भरी आंधी और तूफान ने उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बर्बादी मचाई थी। तूफान और आंधी के चलते 17 लोगों की मौत हुई थी, वहीं 11 लोग जख्मी हुए थे। उत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा था कि ज्यादातर मौतें पेड़ के गिरने और मकानों के ढहने से हुई थी।याद दिला दें कि सप्ताह के अंत में आए तूफान ने मुरादाबाद में सबसे ज्यादा तबाही मचाई थी। तूफाने के चलते यहां सात लोगों ने जानें गंवाई थी। वहीं, संभल में तीन लोगों की मौत हुई थी। बांदा, मुजफ्फरनगर और मेरठ से दो मौतों की सूचना मिली, जबकि अमरोहा से एक मौत की सूचना मिली।अमरोहा में पांच लोग घायल हुए थे, तीन मुरादाबाद में, दो मुजफ्फरनगर में और एक बांदा में जख्मी हुए थे। हालात की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी जिला मजिस्ट्रेटों को 24 घंटे के भीतर राहत वितरित करने का निर्देश दिया था।उत्तर प्रदेश में धूल भरी आंधी एक नियमित घटना बन गई है। जिसके चलते पिछले महीने 130 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। 13 मई को बरेली, बाराबंकी, बुलंदशहर और लखीमपुर खीरी जिलों सहित विभिन्न जिलों में 39 लोग मारे गए थे।9 मई को तूफान में 18 लोग मारे गए और 27 अन्य घायल हुए थे। इटावा जिले में पांच लोगों की मौत, मथुरा, अलीगढ़ और आगरा में तीन, फिरोजाबाद में दो और हाथरस व कानपुर देहात में दो लोगों ने जानें गंवाई थी।
दो और तीन मई को प्रदेश में आए तूफान और वज्रपात से 80 लोगों की मौत हुई थी। सबसे ज्यादा प्रदेश के पश्चिमी हिस्से आगरा में लोगों की मौत हुई थी।हरियाणा और पंजाब में आज गर्मी का असर जारी रहा और 44 . 6 डिग्री सेल्सियस के साथ नारनौल सबसे गर्म रहा। हरियाणा के हिसार में भी गर्मी से लोग परेशान रहे जहां अधिकतम तापमान 42 . 9 डिग्री सेल्सियस जबकि भिवानी में 42.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मौसम विभाग के अनुसार, अंबाला में अधिकतम तापमान 38.4 डिग्री सेल्सियस रहा। पंजाब में, अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में अधिकतम तापमान क्रमशरू 40.7, 40.6 और 38.7 डिग्री सेल्सियस रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here