अब अपने देश में निजी कंपनियां भी बनाएंगी रॉकेट

0
225

इसरो प्रमुख सिवन ने कहा: प्राइवेट कंपनियों के आने से स्पेस सेक्टर मजबूत होगा

देशवासीवों के लिए यह अच्छी खबर हो सकती है। इसरो प्रमुख के सिवन ने गुरुवार को सरकार के स्पेस सेक्टर को निजी कंपनियों के लिए खोलने के फैसले की तारीफ की। उन्होंने कहा- सरकार ने स्पेस सेक्टर में नए सुधार किए हैं। अब प्राइवेट कंपनियों को रॉकेट और सैटेलाइट बनाने की मंजूरी मिलेगी। वे लॉन्चिंग से जुड़े कामों में भी शामिल हो सकेंगी। दूसरे ग्रहों की जानकारी जुटाने के लिए इसरो के स्पेस मिशन में भी इन्हें शामिल किया जा सकेगा। इससे न सिर्फ इंडियन स्पेस सेक्टर मजबूत होगा बल्कि देश की आर्थिक तरक्की में भी काफी मदद मिल सकेगी।

बता दें कि केंद्र सरकार ने बुधवार को भारतीय स्पेस सेक्टर को प्राइवेट कंपनियों के लिए खोलने का ऐलान किया था। इसके लिए एक नया संस्थान बनाया जाएगा। इसका नाम इंडियन नेशनल स्पेस, प्रमोशन एंड ऑथराइजेशन सेंटर होगा। यह संस्थान स्पेस एक्टिविटीज में प्राइवेट कंपनियों की मदद करेगा।

श्री सिवन ने कहा- भारतीय स्पेस सेक्टर में हुए इस बदलाव का इसरो पर कोई असर नहीं होगा। हम पहले की तरह रिसर्च और डेवलपमेंट, दूसरे ग्रहों तक स्पेसक्राफ्ट भेजने और मानव मिशन पर काम जारी रखेंगे। स्पेस सेक्टर में सरकार के हालिया सुधारों का असर देश पर लंबे समय तक नजर आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here