यूपी में तीन महीने विशेष अभियान चलाकर श्रमिकों का पंजीयन कराएगा श्रम विभाग

0
3038
file photo

होगा आन लाइन पंजीयन, आधार नम्बर, मोबाइल नम्बर तथा बैंक डिटेल के अलावा किसी प्रमाण पत्र की नहीं होगी मांग

लखनऊ, 24 जुलाई 2020: श्रमिकों के पंजीयन के लिए श्रम विभाग तीन माह तक विशेष अभियान चलाने जा रहा है। इसके अंतर्गत श्रमिकों जागरूक कर उनका आन लाइन पंजीयन कराया जाएगा, जिससे उन्हें शासन से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ मिल सके। इस अभियान के तहत उन पंजीकृत श्रमिकों का नवीनीकरण भी होगा, जिनका पहले से श्रम विभाग में पंजीयन है।

इस अभियान के अंतर्गत प्रशासन नगरीय निकाय, पंचायतों की मशीनरी का प्रयोग कर डोर-टू-डोर सर्वेक्षण कर पंजीयन कार्य कराने की तैयारी है। इस पंजीयन में यदि किसी कारण वश आन लाइन पंजीयन नहीं हो पाता तो उसे अगले दिन डाटाबेस में डालना होगा। पंजीयन की सामान्य व्यवस्था के अंतर्गत स्व प्रमाणन के आधार पर पोर्टल, मोबाइल एप व मिस्डकाल के माध्यम से पंजीयन कराने की तैयारी है।

यह पंजीयन स्व प्रमाणन के आधार पर किया जाएगा, जिसमें आधार नम्बर, मोबाइल नम्बर तथा बैंक डिटेल के अतिरिक्त किसी अन्य अभिलेख की मांग नहीं की जाएगी। पंजीयन के आवेदन पत्र की जांच मात्र टेलीफोन से की जाएगी। किसी श्रमिक को भौतिक जांच के लिए कार्यालय में नहीं बुलाया जाना है।

इस संबंध में लखनऊ मंडल के अपर श्रमायुक्त बीके राय ने बुधवार को कहा कि शासन के आदेशानुसार विशेष अभियान चलाया जाएगा। उसमें यह कोशिश होगी कि किसी भी श्रमिक का पंजीयन न छुटे। इसमें श्रमिक वर्ग को जागरूक करने के लिए स्वयंसेवी संस्थाओं तथा श्रमिक संगठनों की भी मदद ली जाएगी।

उन्होंने कहा कि हर श्रमिक का खाता नम्बर पंजीयन में लोड होना जरूरी है, क्योंकि इसके बिना समय-समय पर मिलने वाला सहायता श्रमिक तक पहुंचने में परेशानी हो जाती है। अभी लाक डाउन के समय आधे से ज्यादा श्रमिकों का खाता नम्बर नहीं था। हमारे विभाग के फिल्ड अफसरों ने अथक प्रयास से खाता नम्बर जुटाने का काम किया। इसके लिए घर-घर जाकर खाता नम्बर ले आए। इसके बाद श्रमिकों को मिलने वाली सहायता राशि भेजी जा सकी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here