मणिशंकर अय्यर की टिप्पणी कांग्रेस के लिए पैर पर कुल्हाड़ी रखने जैसी भूल साबित होगी: डॉ. विजयवर्गीय

0
390

भारतीय जनता पार्टी के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता डॉ. दीपक विजयवर्गीय ने कहा कि मणिशंकर अय्यर को पार्टी ने प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। यह कार्यवाही राहुल गांधी के उपाध्यक्ष होते हुए हुई है। इससे इतना तय है कि मणिशंकर अय्यर की टिप्पणी कांग्रेस के लिए पैर पर कुल्हाड़ी मारने से अधिक कुल्हाड़ी पर पैर रखने जैसी भूल साबित होगी।
उन्होंने कहा कि मणिशंकर अय्यर स्टेफेंस कालेज आक्सफोर्ड से विदेश सेवा में प्रशिक्षित हुए थे लेकिन वे इस बात को भूल रहे है कि उन जैसे हजारों लोग प्रशिक्षित हुए, लेकिन इन्होंने ही बदजुबानी का रिकार्ड बनाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर जो टिप्पणी मणिशंकर अय्यर ने की उससे वास्तव में गुजरात गौरव को आहत किया है। इसके पहले भी वे पाकिस्तान पहुँचकर प्रधानमंत्री को लेकर अवांछित टिप्पणी कर चुके है। भारत और पाकिस्तान के बीच में वही बाधक है। पाकिस्तान को उनकी सत्ता पलटने के लिए कुछ करना चाहिए। बोलचाल की भाषा में इसे ही सुपारी देना कहा जाता है। कांग्रेस की जुबान जितनी सभ्यता परिलक्षित करती है उसका प्रमाण तो मणिशंकर अय्यर ने 1998 में अटलजी के विरूद्ध अशोभनीय टिप्पणी करके दे दिया था। कांग्रेस के प्रथम परिवार के प्रति स्वामि भक्ति ही इनका रक्षा कवच है।
डॉ. विजयवर्गीय ने कहा कि पूर्व में कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान नरेन्द्र मोदी को मौत का सौदागर बताकर चुनाव में पराजय का वरण किया था। पिछले नतीजों से कांग्रेस ने सबक नहीं लिया तो गुजरात की स्वाभिमानी जनता कांग्रेस को माफ करने वाली नहीं है। उत्तर प्रदेश, बिहार में कांग्रेस अल्पसंख्यकों का कार्ड खेलती रही है। गुजरात की तासीर अलग है इसलिए राहुल गांधी ने गुजरात में चोला बदला है। हिन्दुत्व का वाना और जनेऊ का दिखावा भी किया। राहुल गांधी नहीं समझ पा रहे है कि उनके मौसमी बदलाव से जनता अपना विश्वास बदलने वाली नहीं है। कांग्रेस का खेल देश और गुजरात की जनता बखूबी समझ चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here