पेट्रोल की कीमत अभी 5 रूपए तक और कम हो सकती है!

0
495

नयी दिल्ली 5 अक्टूबर, वाहन र्इंधन पर उत्पाद शुल्क में कल की गई कटौती के बाद आज से पेट्रोल 2.50 रपये लीटर सस्ता हो गया है। वहीं डीजल कीमतों में 2.25 रपये प्रति लीटर की कमी आई है लेकिन सरकार की ओर से संकेत मिले है की पेट्रोल की कीमत अभी 5 रूपए तक और कम हो सकती है।
इंडियन आयल कॉरपोरेशन ‘आईओसी’ के अनुसार दिल्ली में अब पेट्रोल 68.38 रपये प्रति लीटर हो गया है। अभी तक यह 70.88 रपये लीटर था। इसी तरह डीजल 59.14 रपये से 56.89 रपये प्रति लीटर पर आ गया है।
सरकार ने कल पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में दो रपये की कटौती की घोषणा की थी। पिछले तीन महीनों में र्इंधन कीमतों में हुई बढोतरी से राहत के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है।
आईओसी के निदेशक (वित्त) ए के शर्मा ने कहा कि वैट के प्रभाव को शामिल करने के बाद खुदरा मूल्य में उत्पाद शुल्क से अधिक कटौती हुई है। र्इंधन पर उत्पाद शुल्क रिफाइनरी गेट पर लगता है। स्थानीय बिक्रीकर या वैट रिफाइनरी पर कुल लागत, उत्पाद शुल्क और डीलरों को दिए गए कमीशन के आधार पर लगाया जाता है।
कल तक दिल्ली में पेट्रोल पर मूल्यवर्धित कर :वैट: 15.07 रपये प्रति लीटर था जो अब 14.54 रपये लीटर रह गया है। इसी तरह डीजल पर वैट 8.73 रपये से घटकर 8.41 रपये प्रति लीटर रह गया है। उत्पाद शुल्क में कटौती से आम लोगों को कुछ राहत मिली है क्योंकि र्इंधन की कीमतों में चार जुलाई से लगातार बढोतरी हो रही थी।
दिल्ली में पेट्रोल का दाम 7.8 रपये बढकर 70.88 रपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था। यह अगस्त, 2014 के बाद पेट्रोल का सबसे ऊंचा स्तर है। इसी तरह उस समय से डीजल के दाम 5.7 रपये बढकर 59.14 रपये के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गए थे।
उत्पाद शुल्क में कटौती से सरकार के राजस्व पर सालाना 26,000 करोड रपये का बोझ पडेगा। वहीं चालू वित्त वर्ष के शेष महीनों में सरकार पर कुल 13,000 करोड रपये का अतिरिक्त बोझ पडेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here