एक दिवाली इन गरीबों के नाम

0
461

मेहनत से बनाएं गये इन मिटटी के दीयों को अब शायद ही कोई खरीदता हो और अगर कोई खरीदते भी होंगे तो बस पूजा से संबन्धित चंद दिये। बता दें कि इस आधुनिक वैज्ञानिक युग में अब चाइनीज झालर की मांग ज्यादा है जो चकाचौंध की परिचायक है लेकिन इन दियों के खरीदने से किसी गरीब के घर की दिवाली भी रोशन हो सकती है कृपया एक बार जरूर सोचें! फोटो: आज़म हुसैन  

पढ़े इससे सम्बंधित: इस बार दिवाली पर्यावरण के फेवर में मनाये, जलाये मिटटी के दिए जलाएं

इस बार दिवाली पर्यावरण के फेवर में मनाये, जलाये मिटटी के दिए जलाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here