22 सितंबर को 17 हजार चयनित लाभार्थियों को PM देंगे आवासों का तोहफा

0

‘PM ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर, सामनेघाट व बलुआघाट पक्का पुल समेत 16 बड़ी परियोजनाओं को लोकार्पित करेंगे। इसके साथ ही आधा दर्जन परियोजनाओं का शिलान्यास भी रखेंगे। इस बीच जरूरतमंदों के बीच सबसे बड़ा तोहफा होगा ‘पीएम आवास ‘

वाराणसी 16 सितम्बर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 सितंबर को अपने संसदीय क्षेत्र के दो दिनी दौरे के दौरान ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर, सामनेघाट व बलुआघाट पक्का पुल समेत 16 बड़ी परियोजनाओं को लोकार्पित करेंगे। इसके साथ ही आधा दर्जन परियोजनाओं का शिलान्यास भी रखेंगे। इस बीच जरूरतमंदों के बीच सबसे बड़ा तोहफा होगा ‘पीएम आवास। प्रधानमंत्री डीरेका में भव्य कार्यक्रम के दौरान नगरीय व ग्रामीण क्षेत्र के 17 हजार चयनित लाभार्थियों को आवास निर्माण की बाबत स्वीकृति प्रमाण पत्र देंगे। घोषणा संग मंच पर चुनिंदा एक दर्जन लोगों को प्रधानमंत्री के हाथों स्वीकृति पत्र प्राप्त करने का मौका भी मिलेगा। तैयारियां चल रही है। दर्जनों कर्मचारी कंप्यूटराइज्ड रंगीन स्वीकृति पत्र बनाने में जुटे हैं।

केंद्र की ओर से तीन साल में पहली बार गरीबों व जरूरतमंदों के लिए आवास को लेकर तोहफा दिया जाएगा। हालांकि अभी भी पीएम आवास (शहरी) में एक भी आवास की नींव नहीं रखी गई है। अभी सिर्फ लाभार्थियों के चयन की तैयारी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस योजना में लाभार्थी की स्वयं की जमीन होगी। सरकार सब्सिडी के रूप में ढाई लाख रुपये प्रदान करेगी। रही बात पीएम आवास ग्रामीण की तो इसमें लाभार्थियों का चयन हो गया है। बहुतायत के खाते में प्रथम किस्त भी पहुंच गई है लेकिन बालू, गिट्टी की किल्लत की वजह से बहुतों ने निर्माण शुरू नहीं कराया है। लोग दीवार खींचने व छत डालने को लेकर अगली किस्त के इंतजार में हैं।

5000 किसानों को मिलेगा ऋण माफी का प्रमाण पत्र

प्रधानमंत्री डीरेका में ही पांच हजार किसानों को ऋण माफी का प्रमाण पत्र देंगे। इसमें 1804 किसान पहले से ही चयनित हैं जो कतिपय कारणों से प्रमाण पत्र प्राप्त नहीं कर सके थे। शेष नए किसान होंगे जिनकी राशि इस योजना में माफ की गई है।

काशी को मिलेगा बहुत कुछ:

जिला प्रशासन की ओर से की जा रही तैयारी के मुताबिक प्रधानमंत्री सामनेघाट व बलुआघाट पक्का पुल, ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर समेत 16 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। इन परियोजनाओं पर कुल 483.14 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। परियोजनाएं लगभग पूर्ण हैं। प्रधानमंत्री रमना एसटीपी समेत सात परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे। इस पर कुल 360.53 करोड़ रुपये की लागत प्रस्तावित है।

इनका होगा लोकार्पण

  • ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर, बड़ालालपुर
  • सामनेघाट स्थित गंगा पुल
  • बलुआघाट गंगा पुल
  • कज्जाकपुरा, गरथौली विद्युत उपकेंद्र -उत्कर्ष बैंक मुख्यालय
  • मालवीय एथिक्स सेंटर, बीएचयू
  • डी सेंट्रलाइज्ड वेस्ट टू एनर्जी एसटीपी
  • दुर्गाकुंड सुंदरीकरण
  • लक्ष्मीकुंड सुंदरीकरण
  • सीएचसी आराजीलाइन में 30 बेड मैटरनिटी विंग
  • चोलापुर थाने में अस्सी व्यक्तियों हेतु बैरक निर्माण
  • बुद्धा थीम पार्क, सारनाथ
  • सारंगनाथ तालाब, सुंदरीकरण
  • गुरुधाम मंदिर में विकास कार्य
  • मारकंडेय महादेव, कैथी
  • कैथी में गंगा घाट का विकास

इन योजनाओं का शिलान्यास

  • अमृत योजना में 7 पार्कों का सुंदरीकरण
  • नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत गृह जल संयोजन का कार्य
  • अन्न क्षेत्र काशी विश्वनाथ मंदिर
  • रमना एसटीपी (नमामि गंगे योजना)
  • नगर निगम क्षेत्र सीवर संयोजन कार्य।