PTC Strike: हम दो दिन मे शांतिपूर्वक हल निकाल लेंगे: रीता बहुगड़ा जोशी

0

यह किसी दूसरे कथित नेताओ की साजिश हैं मैनेजमेंट और वर्कर्स को आपस में लड़ाने की: सचिन अग्रवाल (महाप्रबंधक)

PTC कर्मचारियों की अनश्चितकालीन हड़ताल का आज 6वां दिन

लखनऊ 24 सितम्बर। पीटीसी प्लांट 1, मालवीय नगर, ऐशबाग के कर्मचारियों की अनश्चितकालीन हड़ताल का आज 6वां दिन है और सुलह की अभी दूर दूर तक कोई आस नहीं दिख रही है कर्मचारियों का आरोप है कि मैनेजमेंट के अड़ियल रवैये के चलते यह हालत उत्पन्न है तो दूसरी तरफ पीटीसी के एमडी का कहना है कि जब हम अपने कर्मचारियों को वेज बोर्ड के अनुसार अच्छा वेतनमान दे रहे हैं तो किस बात की स्ट्राइक! यह किसी दूसरे कथित नेताओ की साजिश हैं मैनेजमेंट और वर्कर्स को आपस में लड़ाने की। इन हालातों के बीच आज भाजपा की श्रीमती रीता बहुगड़ा जोशी ने पीटीसी कम्पनी पर पहुँच कर इस मसले को नया मोड़ दे दिया और कर्मचारियों से कहा कि आप लोग निश्चिंत रहें हम दो दिन मे शांतिपूर्वक हल निकाल लेंगे।

यूनियन के अध्यक्ष रामकरण तिवारी का कहना है कि कल हम लोगों ने वार्ता की कोशिश भी जो पूरी तरह से विफल रही थी। अब हम अपनी विभिन्न मांगों को लेकर अनश्चितकालीन हड़ताल पर हैं और जब -तक हमारी मांगे नहीं स्वीकार नहीं की जाती जब तक हड़ताल पर रहेंगे। मैनेजमेंट तो हमारी कोई बात सुनना नहीं चाहता। लेबर कोर्ट मे 26 सितम्बर को सुनवाई होनी हैं शायद वहां कोई रास्ता निकल आएं।

आखिर किस मुद्दे को लेकर हैं स्ट्राइक:

यूनियन के अध्यक्ष रामकरण तिवारी का कहना है कि सोलह साल से कर्मचारियों के वेतनमान में कोई वेतन वृद्धि नहीं हुयी हैं और हम सरकार द्वारा निर्धारित वेतनमान की मांग कर रहे हैं उनका कहना कि हमारे यहाँ सालो से कुशल श्रेणी के कर्मचारी काम कर रहे है लेकिन फिर भी उन्हें अकुशल श्रेणी के बराबर वेतनमान दिया जा रहा है जो पूरी तरह से अनुचित हैं। लोग सालो से 5 -से 8, 10 हज़ार पर काम कर रहे हैं। मै यहाँ पिछले 20 साल से काम कर रहा हूं और आज भी मेरी सैलरी कटकर 8 हज़ार रूपए मिलती हैं इससे अंदाजा लगा सकते हैं 300 वर्कर के क्या हाल होंगें। इसके विपरीप फिर भी कम्पनी अपनी शर्तों पर काम कराना चाहती है।

सरकार द्वारा समय समय पर वेतन बढ़ाये जाने के बाद न्यूनतम वेतन से अधिक वेतन वृद्धि HRA, CCA अलाउंस मिलता रहा हैं लेकिन पिछले 16 वषों से कम्पनी ने निर्धारित वेतनमान में कोई परिवर्तन नहीं किया हम 16 वषों से आज भी वही वेतनमान पा रहे हैं।

आज जब पीटीसी प्लांट-1 से AMTC (कटी बगिया) लगभग 35 किलोमीटर दूर भेजा जा रहा है तो कर्मचारियों से यह कहा जा रहा है कि बस दो महीने ही यातायात की व्यवस्था करेंगें उसके बाद नहीं यह तो कर्मचारियों के साथ अन्याय है।

क्या कहता हैं मैनेजमेंट:

इस बारे में पीटीसी के महाप्रबंधक सचिन अग्रवाल से बात की गई तो उनका कहना था हम लोगो को डीएलसी ने लेबर ऑफिस बुलाकर चेक भी किया हैं जिसमे सब सही पाया गया, यहाँ तक सरकार द्वारा जो भी जिओ निकला पीटीसी ने उसको दिया, आप मालूम कर सकते हैं इस इलाके में जितनी भी प्राइवेट फैक्ट्री हैं उनमे सबसे अच्छा वेतनमान हमारे यहां दिया जा रहा हैं और जो भी पिछले तीन साल के अर्लियर हैं पेय कर दिए गए इसके अलावा तनख्वाह तो छोड़ दीजिये इनको एक- एक दो- दो तीन – तीन लाख रूपया एडवांस दे रखा हैं किसी को शादी के नाम पर किसी को मृत्यु की जरूरत पर किसी को पढाई के नाम पर किसी को कॉलेज की फीस के नाम पर। एक आदमी को नहीं सैकड़ो वर्कर लोगों को।

हम तो इनके साथ बैठ कई दिन से बात कर रहे हैं लेकिन इनके साथ कुछ नेता ऐसे बाहर से आ गए हैं जो सिर्फ राजनीति कर रहे हैं और डरा धमका कर, गुमराह कर बेवक़ूफ़ बना रहे हैं और वर्कर को स्ट्राइक करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। जिसका परिणाम हम सब देख रहे हैं।

अगर कम्पनी ने कोई इल्लीगल काम किया होता तो आज से पिछले 30 से 50 साल के बीच वह सारा अवैध काम सबके सामने आ गया होता।

इसके अलावा हमारे यहां जिस प्रकार की सुविधा मसलन बोनस, वर्दी और सुरक्षा मिलती हैं वह सुविधा कही और नहीं मिलती हैं मेरा तो यही कहना हैं जिस प्रकार इस तरह की इंडस्टरी को कब्जे में कर रखा हैं वह गलत हैं।

इस मामले कुछ लोगों का सेल्फ इंटरेस्ट हैं जो कंपनी को चलने नहीं देना चाहते हैं और इस तरह की स्ट्राइक से कंपनी को नुक्सान पहुंचना चाहते हैं हम तो चाहते हैं बैठ कर मसले का हल निकाला जाये। जिससे समस्त वर्कर की पारिवारिक खुशियां वापस मिल सके।

आप लोग निश्चिंत रहें हम दो दिन मे शांतिपूर्वक हल निकाल लेंगे: रीता बहुगड़ा जोशी

पीटीसी कम्पनी पर कर्मचारियों के शोषण और निर्धारित वेतनमान न दिए जाने का आरोप पर रीता बहुगड़ा जोशी ने कर्मचारियों से कहा कि आप लोग शांतिपूर्वक अपना धरना प्रदर्शन करिये लेकिन हिंसा का मार्ग न अपनाये। हम दो एक दिन मे कोई न कोई शांतिपूर्वक हल निकाल लेंगे। इस बात को लेकर संगठन के कर्मचारियों में उत्साह की लहर हैं।
अपने तय समय के अनुसार आज रविवार को 1:30 बजे मालवीय नगर स्थित पीटीसी कम्पनी पर पूरे लाव-लश्कर के साथ पहुंची श्रीमती रीता बहुगड़ा जोशी के आगमन पर कर्मचारी जोश और उत्साह से भर गये श्रीमती रीता जी ने कर्मचारियों कि बात पूरी गंभीरता से सुनी और आवश्वासन दिया कि मामले का हल शीघ्र निकाल लेंगें।

देखे पिछली खबर:

पीटीसी कर्मचारी एक बार फिर अनश्चितकालीन हड़ताल पर