राम मंदिर पर सुनवाई टलने से हिन्दू आक्रोशित: चम्पतराय

0
331
स्टेट गेस्ट हाउस में प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते विश्व हिन्दू परिषद के उपाध्यक्ष चंपत राय। -Azam Husain

लखनऊ, 14 नवंबर 2018:  विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के अंतर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चम्पत राय ने कहा राम मंदिर मामले पर सुनवाई टल गयी, इससे हिन्दुओं में आक्रोश है क्योंकि हिन्दुओं का विश्वास है कि सुप्रीम कोर्ट से फैसला मंदिर बनाने के पक्ष में ही आएगा। श्री चम्पत राय आज मीराबाई मार्ग स्थित राज्य अतिथिगृह में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि राम मंदिर न बनने से हिन्दू समुदाय में आक्रोश है। हिन्दू समाज की भावनाओं को देखते हुए अयोध्या में 25 नवम्बर, 2018 को पूर्वाह्न 11 बजे परिक्रमा मार्ग स्थित बड़ा भक्त माल की बगिया में विराट धर्म सभा का आयोजन होगा। धर्म सभा के लिए में 12 नवम्बर को भूमि पूजन किया गया है।

उन्होंने कहा भारत में लोगों को हिन्दुओं की आस्था को समझना होगा। राम मंदिर निर्माण के लिए पांच सौ साल से संघर्ष चल रहा है और अब मंदिर की प्रतीक्षा असह्य हो रही है। उन्होंने यह भी बताया कि राम घाट स्थित न्यास कार्यशाला में मंदिर निर्माण के लिए पत्थरों की तराशी का कार्य लगभग पूरा हो गया है।

श्री राय ने न्यायालय के टालमटोल वाले रवैये पर भी सवाल उठाया और कहा सर्वोच्च न्यायालय से न्याय की अपेक्षा होती है और अब वही न्याय करने से बच रहा है। उन्होंने सर्वोच्च न्यायालय की इस टिप्पणी को चोट पहुंचाने वाला बताया जिसमें मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि राम मंदिर उनकी प्राथमिकता में नहीं है। विहिप उपाध्यक्ष ने कहा राम मंदिर का मुकदमा सितम्बर 2018 में ही समाप्त हो चुका होता पर इसे लोकसभा चुनाव तक ले जाया जा रहा है।

श्री चम्पत राय ने बताया कि अयोध्या में हो रही धर्मसभा में करीब एक लाख हिन्दू शामिल हो सकते हैं और 9 दिसम्बर को दिल्ली की धर्मसभा में एकत्रित होने वाले राम भक्तों की संख्या पांच लाख तक हो सकती है। इसलिए हिन्दुओं की भावना और आस्था को सरकार और अदालत दोनों को समझना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here