देहरी तक पहुंचे थे लेकिन हुए नहीं दीदार

0
375
देहरी तक पहुंचे थे
लेकिन हुए नहीं दीदार।
हैं हताश
पर हिम्मत से
आएंगे एक बार
– डॉ दिलीप अग्निहोत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here