स्मृति मंधाना की विस्फोटक बल्लेबाज़ी से आस्ट्रेलिया को करना पड़ा हार का सामना

1
210

नई दिल्ली, 18 नवंबर 2018: विस्फोटक बल्लेबाज़ी के दम पर स्मृति मंधाना ने आस्ट्रेलिया टीम के पावं अकेले ही उखाड़ फेंकें और आस्ट्रेलिया को 48 रन से हराकर महिला टी ट्वंटी 20 विश्वकप के ग्रुप बी में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया। प्लेयर ऑफ द मैच मंधाना की 55 गेंदों पर नौ चौकों और तीन छक्कों से सजी 83 रन की पारी की बदौलत भारत ने 20 ओवर में आठ विकेट पर 167 रन का मजबूत स्कोर बनाने के बाद अपने स्पिनरों के बेहतरीन प्रदर्शन से ऑस्ट्रेलिया की मजबूत बल्लेबाजी को 19.4 ओवर में 119 रन पर ढेर कर दिया।

बता दें कि भारत की ग्रुप बी में यह लगातार चौथी जीत है और वह ग्रुप में टॉप लेबल पर रहा। इस मैच को हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया को ग्रुप में दूसरा स्थान मिला। भारत का सेमीफाइनल में ग्रुप ए की दूसरे नंबर की टीम से मुकाबला होगा जो गत चैंपियन और मेजबान वेस्ट इंडीज तथा इंग्लैंड में से कोई होगी। ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल में ग्रुप ए की शीर्ष टीम से भिड़ेगा।

शानदार बना रिकॉर्ड:

भारत ने टूर्नामेंट में इससे पहले न्यूजीलैंड को 34 रन से, पाकिस्तान को सात विकेट से और आयरलैंड को 52 रन से हराया था जबकि आस्ट्रेलियाई टीम ने पाकिस्तान को 52 रन से, आयरलैंड को 9 विकेट से और न्यूजीलैंड को 33 रन से हराया था। भारत ने पिछले वर्ष इंग्लैंड में खेले गए एकदिवसीय विश्वकप के सेमीफाइनल में मौजूदा भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर की नाबाद 171 रन की पारी से आस्ट्रेलिया को ध्वस्त किया था और इस बार मंधाना की पारी ऑस्ट्रेलिया पर भारी पड़ गयी।

पिछले तीन मैचों में 2, 26 और 33 रन बनाने वाली मंधाना ने इस मुकाबले में खतरनाक तेवर दिखाते हुए अपने ट्वंटी-20 करियर का छठा अर्धशतक और अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बना डाला। तानिया भाटिया (2) का विकेट मात्र पांच रन के स्कोर पर गिरने के बाद मंधाना ने जेमिमा रोड्रिग्स (6) के साथ दूसरे विकेट के लिए 44 रन और कप्तान हरमनप्रीत कौर के साथ तीसरे विकेट के लिए 68 रन जोड़े।

1 COMMENT

  1. I am sure this piece of writing has touched all the internet users, its really
    really good post on building up new blog.
    It’s appropriate time to make some plans for the
    future and it’s time to be happy. I’ve read
    this post and if I could I desire to suggest you few interesting things
    or advice. Perhaps you can write next articles referring to this article.
    I want to read even more things about it! I’ll right away
    grasp your rss feed as I can not in finding your e-mail subscription hyperlink or newsletter service.
    Do you’ve any? Kindly permit me realize
    in order that I may subscribe. Thanks. http://cspan.co.uk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here