गौरक्षकों के नाम पर गुंडागर्दी करने वालों की हो निगरानी: सुप्रीम कोर्ट

0
389

‘हर जिले में एक सीनियर पुलिस अधिकारी को बतौर नोडल आॅफिसर तैनात करें:सुप्रीम कोर्ट ‘


नई दिल्ली, 7 सितंबर। पिछले कुछ महीनो से गौरक्षा के नाम पर भगवा गुंडागर्दी और मारपीट की राजनीति हो रही है। और गौरक्षा के नाम पर जिस तरह से लोगो को प्रताड़ित किया जा रहा हैं उससे सुप्रीम कोर्ट बेहद खफा है और सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों को निर्देश देते हुए कहा है कि वो हर जिले में एक सीनियर पुलिस अधिकारी को बतौर नोडल आॅफिसर तैनात करें।

इन अधिकारियों की जिम्मेदारी यह सुनिश्चित करना होगी, कि उनके जिले में गौरक्षक समूह गायों की रक्षा के नाम पर कानून को अपने हाथों में न लें। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकार को निर्देश देते हुए गौरक्षकों द्वारा की गई किसी भी तरह की गुंडागर्दी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कोर्ट ने कहा कि वो किसी भी व्यक्ति या समूह को इजाजत नहीं दे सकता है जो गौरक्षा के नाम पर लोगों के साथ मारपीट करें। वहीं केंद्र सरकार की तरफ से पक्ष रखते हुए एएसजी तुषार मेहता ने कहा कि इसको रोकने के लिए पर्याप्त कानून है, जिससे ऐसी किसी भी घटना को रोका जा सके।