एक नकली अपहरण का सच हो जाना!

0
847

अंगूरी भाबी और विभूति के किडनैप की तैयारी कर रहे लोग !

एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में अब तक ऐसी कई घटनायें हुई हैं, जहां पर विभूति (आसिफ शेख) और मनमोहन तिवारी (रोहिताश्व गौड़) एक-दूसरे से भिड़े हैं। लेकिन इस शो के आगामी एपिसोड में आप देखेंगे कि तिवारी जी किस तरह एक या दो बार नहीं बल्कि 3 बार विभूति की जान बचाते हैं।

दरअसल विभूति को एक जहरीला सांप काट लेता है, लेकिन तभी किस्मत से तिवारी जी वहां पहुंच जाते हैं और विभूति की जान बचाते हैं। विभूति अपनी जान बचाने के लिये तहेदिल से तिवारी जी का आभार जताता है। इस आभार के कारण विभूति उस समय बेहद असहाय महसूस करता है, जब भुरे (राकेश बेदी) हेलेन (प्रतिमा कन्नन) को छेड़ता है। हालांकि, उसे सबक सिखाने के लिये चाचाजी (डेविड मिश्रा) अम्मा को छेड़ते हैं और उनके और भुरे के बीच एक युद्ध छिड़ जाता है। यह सब टीएमटी (वैभव माथुर, दीपेश भान, सलीम ज़ैदी) के लिये बुरा साबित होता है, क्योंकि वे जब भी डिलीवरी के लिये बाहर निकलते हैं हर बार बर्तन टूटे हुये निकलते हैं।

दूसरी ओर, विभूति चाहता है कि वह तिवारी का अहसान चुका दे और इसके लिये वह एक सपेरे को बुलाता है, जिसके पास एक ऐसा सांप है, जिसका विष निकाला जा चुका है। वह सपेरे के साथ मिलकर पहले तिवारी को सांप से कटवाने और फिर उसकी जान बचाने का नाटक करने की योजना बनाता है, लेकिन उसके मंसूबों पर पानी फिर जाता है। इसके बाद वह एक और मास्टरप्लान बनाता है, जिसमें चाचाजी तिवारी को किडनैप करने का फैसला करते हैं और बाद में विभूति हीरो की तरह आकर उन्हें बचा लेगा।

इस तरह तिवारी जी ने विभूति पर जो अहसान किया है, उसका बदला चुक जायेगा। लेकिन घटनायें इस तरह से मोड़ लेती हैं कि अंगूरी भाबी (शुभांगी अत्रे) का अपहरण हो जाता है और जब विभूति उन्हें बचाने जाता है, तो वह खुद भी फंस जाता है। इस घटना से तिवारी जी परेशान हो जाते हैं, क्योंकि अपहरणकर्ताओं ने बहुत बड़ी फिरौती मांगी है।

अपने फुल-प्रूफ प्लान्स के बारे में विस्तार से बताते हुये आसिफ शेख कहते हैं, ‘‘इस एपिसोड में एक-के-बाद-एक कई हास्यप्रद घटनायें होंगी। पहले सांप से सामना, फिर एक नकली अपहरण का सच हो जाना और उसके बाद लूज मोशन की दवाईयां। मैं बस इतना ही कह सकता हूं कि इस ट्रैक में विभूति पैर पर कुल्हाड़ी नहीं, कुल्हाड़ी पे पैर मारता है। यह देखना दिलचस्प होगा कि तिवारी जी अपनी पत्नी और पड़ोसी को अपहरणकर्ताओं के चुंगल से कैसे बचाते हैं। लेकिन एक बात तो तय है कि यह पूरा पैकेज दर्शकों को हंसा-हंसा कर रुलाने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here