23 अक्टूबर से छात्र रोहित का अनशन बदलेगा अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल में

0
385

22 दिन में भी अनशन का नतीजा न निकलने पर लिया भूख हड़ताल का निर्णय

लखनऊ, 17 अक्टूबर 2018: बीबीएयू में रिक्त पड़े हॉस्टल के कमरें न दिए जाने से 22 दिन से कैंपस में तंबू लगाकर रह रहा छात्र रोहित सिंह ने विवश होकर अनिशिचितकालीन भूख हड़ताल के लिए मंगलवार को कुलपति, कुलसचिव, प्रॉक्टर, सा. कुलसचिव एससी/एसटी सेल और डीएसडब्लू को प्रार्थना पत्र दिया।

कमरे खाली हैं लेकिन मुझे टरकाया जा रहा है: रोहित सिंह

छात्र ने कहा कि मैं लगातार 22 दिन से कैंपस में तंबू लगाकर रह रहा हूँ लेकिन किसी भी ज़िम्मेदार ने अभी तक सुधि नहीं ली! उसने कहा कि जब मैंने छात्रावास का निरिक्षण किया तो पता चला कि सिद्धार्थ छात्रावास के कमरा नम्बर नौ और 44 में दो सीटें रिक्त हैं, इसी तरह अशोका और कनिष्क छात्रावास में भी और सीटें खाली हो सकती हैं।

छात्र ने कहा कि मेरे द्वारा पूछने पर ठीक से जवाब भी नहीं मिल पा रहा है, बात को घुमा-फिरा कर मुझे टरकाया जा रहा है। रोहित ने कहा कि जब से मुझे मालूम चला है कि सीटें रिक्त हैं और मुझे कमरा नहीं दिया जा रहा है तब से मै अपने आपको ठगा महसूस कर रहा हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here