चेकिंग अभियान के दौरान लेसा टीम पर हमला, सुरक्षा की मांग लेकर दलित अभियन्ता भड़के

0
263
  • एसोसिएशन का ऐलान न दी गयी जांच टीम को पर्याप्त सुरक्षा तो भविष्य में पूरे प्रदेश के दलित अभियन्ता नहीं करेंगे जांच का कार्य
  • दोषियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही कराने के लिये प्रबन्धन से लगायी गुहार

लखनऊ, 20 अगस्त 2018: बिजली चेकिंग के दौरान गड़बड़ी पाए जाने पर कुछ असामाजिक तत्वों ने दलित अभियन्ता अनिल कुमार व उनकी टीम पर हमला कर दिया, जिससे लेसा टीम बुरी तरह से घायल हो गयी। हमले की सूचना पर एसोसिएशन पदाधिकारी भड़क उठे और इसके साथ ही दोषियों पर कार्रवाई और जांच टीम को पर्याप्त सुरक्षा की मांग की। इस मामले में चेकिंग टीम द्वारा तुरन्त पारा थाने में एफआईआर दर्ज करायी गयी, जिसमें थाने द्वारा मामले की गम्भीरता व मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर भा0द0सं0 की धारा 147, 148, 323, 352, 353, 307, 504 व 506 में मुकदमा दर्ज किया गया है।

बता दें कि लेसा अन्तर्गत विद्युत वितरण खण्ड सेस लेसा के अधिशासी अभियन्ता श्री अनिल कुमार के नेतृत्व में उप खण्ड अधिकारी, अवर अभियन्ता व अन्य क्षेत्रीय स्टाफ द्वारा चेकिंग अभियान के तहत बीबी खेड़ा में विभाग कार्य किया जा रहा था। इसी दौरान कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा चेकिंग में बाधा डालकर पूरी टीम पर लाटी डण्डों के साथ जान लेवा हमला कर दिया गया, जिससे टीम के अनेकों सदस्य बुरी तरह घायल हो गये। जिसकी भनक लगते ही पूरे प्रदेश के दलित अभियन्ताओं में भारी रोष व्याप्त हो गया।

दलित अभियन्ता व पावर आफिसर्स एसो. के अति. महासचिव अनिल कुमार व उनकी पूरी टीम पर जानलेवा हमले के विरोध में तुरन्त एसोसिएशन की आपात बैठक बुलायी गयी, जिसमें एसोसिएशन ने ऐलान किया है कि यदि प्रबन्धन द्वारा आगे जांच टीम को पर्याप्त सुरक्षा न मुहैया करायी गयी और दोषियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही न करायी गयी तो पूरे प्रदेश में दलित अभियन्ता कोई भी जांच नहीं करेंगे।

उप्र पावर आफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष केबी राम, कार्यवाहक अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा, सचिव आरपी केन, लेसा अध्यक्ष अजय कुमार, मध्यांचल महासचिव आदर्श कौशल, संगठन सचिव एसपी सिंह, राकेश पुष्कर, राधेश्याम, पीपी सिंह, आनन्द कनौजिया, रंजीत कुमार, अजय कनौजिया, इं. जय प्रकाश, विकास दीप ने कहा कि पूरे मामले की जानकारी से प्रबन्धन को अवगत करा दिया गया है, जिस पर प्रबन्धन द्वारा दोषियों के खिलाफ कठोर कार्यवाही कराने का आश्वासन दिया है। एसोसिएशन पूरे मामले की समीक्षा के बाद आगे की कार्यवाही पर विचार करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here