सौभाग्या योजना से गरीबों के लिए बिजली और सस्ती हो: उपभोक्ता परिषद

0
288

उपभोक्ता हित के कुछ प्रस्ताव को लेकर उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष ने प्रदेश के ऊर्जा मंत्री को सौंपा एक जनहित प्रस्ताव

लखनऊ, 19 सितम्बर 2018: कल देश के केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह के लखनऊ आगमन के मद्देनजर प्रदेश के विद्युत उपभोक्ताओं की लड़ाई लड़ने वाले उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष व विश्व ऊर्जा कौंसिल के स्थायी सदस्य अवधेश कुमार वर्मा ने शक्ति भवन में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा से मुलाकात कर चर्चा करते हुए एक जनहित का प्रस्ताव सौंपा गया और उनसे यह अनुरोध किया गया कि इस प्रस्ताव को कल केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री के समक्ष जनहित में आप द्वारा प्रेषित किया जायेगा तो गरीब उपभोक्ताओं को अवश्य राहत मिलेगी।

उपभोक्ता परिषद द्वारा सौंपे गये प्रस्ताव में यह मुद्दा उठाया गया कि बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर ने 1943 में कहा था कि बिजली सस्ती नहीं बहुत सस्ती होनी चाहिए और आम जनमानस को प्रचुर मात्रा में उपलब्ध होना चाहिए और इससे सम्बन्धित बाबा साहब द्वारा दिये गये वक्तव्य के दस्तावेज भी मा. ऊर्जा मंत्री को सौंपे गये। उपभोक्ता परिषद ने आगे अपनी मांग रखते हुए कहा कि पूरे देश में मोदी सरकार द्वारा सौभाग्या स्कीम के तहत लगभग रू0 16320 करोड़ खर्च किया जा रहा है और सौभाग्या सहित ग्राम स्वराज अभियान के तहत पूरे देश में गरीबों व दलित बस्तियों में फ्री में कनेक्शन बांटे गये हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसे में सौभाग्या के तहत बीपीएल व गरीबों के लिये एक नयी श्रेणी बनायी जाये और उनकी बिजली दरें काफी सस्ती रू0 1 से 1.50 प्रति यूनिट के बीच रखी जाये। भले ही यह प्रस्तावित व्यवस्था 500 वाट तक ही सीमित की जाये। वर्तमान में प्रथम स्लैब पर सभी विद्युत उपभोक्ताओं को रू0 3 प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना पड़ता है, जो गरीबों व बीपीएल उपभोक्ताओं के लिये बहुत अधिक है। ऐसे में सौभाग्या के अन्तर्गत गरीब बीपीएल उपभोक्ता अनवरत् बिजली का उपभोग कर पायें ऐसे में जरूरी है कि उनकी बिजली की दरें सस्ती की जायें।

प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकान्त शर्मा ने उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष को यह आश्वासन दिया कि उनके इस प्रस्ताव पर गम्भीरता से विचार किया जायेगा और पूरा मामला देश के केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री के संज्ञान में लाया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here