भाजपा राज में महिला अपराध चरम सीमा पर है: अजय कुमार लल्लू

0
336

लखनऊ, 19 जनवरी, 2020: भाजपा सरकार में प्रदेश में महिला अपराध चरम सीमा पर है। महिलाएं किसी भी स्तर पर सुरक्षित नहीं हैं। बहराइच में एक युवती की हत्या कर हत्यारों ने सुबूत मिटाने के लिए चेहरे को तेजाब से जला दिया। ऐसी तमाम घटनाएं रोजाना प्रदेश में हो रही हैं और सरकार इससे इतर अपराधमुक्त होने का झूठा दावा करके खुद अपनी पीठ थपथपा रही है। ये बातें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कही।

उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संरक्षण में सारे अपराध हो रहे हैं, क्योंकि प्रदेश और देश में यह झूठ बोलते हैं कि प्रदेश की कानून व्यवस्था ठीक है, जबकि प्रदेश में पूरी तरीके से जंगलराज कायम हो गया है। उन्होंने कहा कि बिजनौर में महिला की गोली मारकर हत्या की गयी और सुबूत मिटाने के लिए शव के ऊपर चारपाई डालकर आग लगा दी।

यह घटना विगत दिनों हैदराबाद में हुई महिला चिकित्सक के साथ हुई घटना की पुनरावृत्ति है। वहीं कानपुर में बलात्कारियों ने रेप पीड़िता की माता को जमानत से छूटने के बाद पीट-पीटकर मार डाला। राजधानी लखनऊ में 11 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना पर पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय पीड़िता को ही पूरे दिन थाने में बैठाये रखा और मानसिक उत्पीड़न किया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने रविवार को जारी बयान में कहा कि प्रदेश में महिलाओं के विरूद्ध अपराध जिस तेजी से बढ़ रहे हैं और सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है, वह और भी चिन्ता का विषय है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री करोड़ों रूपये के झूठा विज्ञापन देकर अपराधमुक्त प्रदेश होने का दावा करते हैं लेकिन आंकड़े बताते हैं कि प्रदेश अपराधों में नम्बर वन है। साथ ही उप्र के अपराध का रिकार्ड है। इसके लिए कहीं न कहीं सरकार के साथ ही उप्र के डीजीपी भी जिम्मेदार हैं। चर्चाओं में ऐसी बातें आ रही है कि इस प्रकार के असफल डीजीपी को जल्द ही रिटायरमेंट के बाद एक बड़े सरकारी पद पर नवाजे जाने की प्रदेश सरकार की मंशा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री कानून व्यवस्था को संभालने में पूरी तरह अक्षम साबित हो रहे हैं ऐसे में उन्हें अपने पद पर बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं रह गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here