बेटी से गए थे मिलने, ट्रेन से कट गए पैर, परिवार से मिलाया एक पत्रकर ने

0
620

बाबा परिवार को पास देखकर रो पड़े, बेटी से मिलने बिहार से आये थे आगरा  

आगरा के यमुना ब्रिज स्टेशन पर एक वृद्ध का ट्रेन से पैर कट गया था जिसे एस एन अस्पताल में लावारिस अवस्था में भर्ती कराया गया या था। कई दिन इलाज होने के बाद भी उसके परिवार का कोई पता न चल सका। इसके बाद पत्रकर नरेश पराशर ने वृद्ध से बात की तो उन्होंने बिहारी भाषा में अपना पता बताया जो किसी को समझ नहीं आ रहा था।
उनके बताये गए अस्पष्ट पते पर माथापच्ची करके आखिर इनके परिवार को खोज ही लिया। इनके बेटे और दामाद इन्हें लेने आगरा आ गए। अस्पताल में जैसे ही उन्होंने वृद्ध के कटे हुए पैर देखे तो रोने लगे, उन्होंने बताया कि ये अपनी बेटी से मिलने उसके ससुराल गए थे.लेकिन रास्ते में हादसा हो गया,परिजनों को अपने बीच पाकर वृद्ध भी रोने लगे उसके बाद सभी आपस में गले मिलकर खूब रोये.वह एम्बुलेंस से वृद्ध को घर ले गए।

Please follow and like us:
Pin Share