चालाकी के चक्कर में मारी गयी लोमड़ी

0
882

काम न आई लोमड़ी की चालाकी

एक समय की बात है एक बिल्ली और एक लोमड़ी आपस में बहुत अच्छे दोस्त थे। एक दिन दोनों में बहस हो गयी कि उनमे से सबसे ज्यादा स्मार्ट और चालाक कौन है। लोमड़ी ने गुस्से से कहा ‘मैं सबसे ज्यादा ट्रिक्स जानती हूं इसलिए मैं सबसे जयादा चालाक और स्मार्ट हूं!

उधर बिल्ली यह अंदर से जानती थी कि वह सिर्फ एक ट्रिक ही जानती है। लेकिन फिर भी ईगो प्रॉब्लम के चलते वह लोमड़ी से बहस करे जा रही थी। बात तू तू -मैं मैं से गंभीर झगडे तक आ पहुंची। तब भी वह आपस में लड़े जा रहे थे

तभी अचानक उन्होंने गोलियों की आवाज सुनी और देखा कुछ शिकारी जंगल में चले आ रहे हैं। शिकारियों को देखते ही बिल्ली अचानक तेजी से एक पेड़ पर चढ़ गयी। जबकि लोमड़ी शिकारियों से बचने के लिए अपने दिमाग से नई -नई तरकीबें भिड़ाने में जुटी हुई थी, कि वह क्या करें?

जा उसे कुछ न सुझाई दिया तो उसने नाचना शुरू कर दिया और जम्प करने लगी, लेकिन उसकी कोई ट्रिक्स उस समय काम नहीं आई और शिकारियों ने उसे पकड़ लिया।

सीख: इसलिए सच ही कहा गया है बच्चों अपनी योग्यता के बारे में जानिए और उसका सही इस्तेमाल करिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here