अंटार्टिका में दिखा बिग होल, लोगों ने कहा एलियंस ने बनाया

0

नई दिल्ली 18 अक्टूबर। क्या वास्तव में धरती पर एलियंस का बसेरा है अगर है तो वह राज आज तक दुनिया के सामने क्यों नहीं आया! उनके बारे में जो भी सूचनाएं मिलती है वह आधी- अधूरी और आपुस्ट क्यों रहती है जिसका जवाब आज तक विज्ञान साफ़ तौर पर क्यों नहीं दे सका है।

हाल ही में एक बार फिर से एक हैंरत में डालने वाली खबर आई हैं। अंटार्टिका के बारे में कई ऐसी खबरें आती रही हैं कि वहां पर एलियंस मौजूद हैं। पता चला हैं कि वहां एक विशाल छेद देखा गया हैं। लोगों का मानना हैं कि उसको एलियंस द्वारा बनाया गया हैं।

आपको सबसे पहले बता दें कि स्कॉटलैंड शहर 80,077 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ हैं। मान लीजिये यदि पृथ्वी में इतना बड़ा छेद अचानक से हो जाए तो क्या होगा। अगर ऐसा होता हैं तो दुनिया के बहुत से शहर पृथ्वी के अंदर समा जायेंगे। हैंरानी की बात यह हैं कि इसका आकार लंदन शहर से भी 50 गुना ज्यादा बड़ा हैं। वैज्ञानिक इस छेद के होने की वजह का पता लगाने में जुटे हुए हैं। इस बारे में कुछ लोगों का कहना हैं कि यह छेद एलियंस द्वारा निर्मित किया गया हैं।

जिस छेद के बारे में हम बात कर रहें हैं वह भी इतना ही विशाल हैं। मगर राहत की बात यह हैं कि यह छेद अंटार्टिका में हुआ हैं। जहां दूर दूर तक लोगों का नामो निशान नही हैं।

इस छेद को वेडेल से के बीच में पिछले माह देखा गया था। इसके बारे में यूनिवर्सिटी ऑफ़ टोरंटो के केंट मूर ने कहा हैं कि “यह छेद आइस एज से बहुत ज्यादा अंदर की ओर बना हैं। यदि सॅटॅलाइट इमेज नहीं होती तो हम लोगों का इसका पता ही नहीं चल पाता।” आपको बता दें कि इस प्रकार के छेद को पॉलीन्या कहा जाता हैं। यह सर्वप्रथम 1970 में देखा गया था। मगर अब अंटार्टिका में जिस पॉलीन्या को देखा गया हैं वह पहले वाले से 5 गुना ज्यादा बड़ा हैं। अब वास्तविकता क्या हैं इस बारे में अभी तक तो कुछ पता नहीं लग पाया हैं लेकिन संभव हैं कि जल्दी ही वैज्ञानिक इसके बारे में पता लगा लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here