ई-सुविधा की किस लापरवाही से आपरेटरों ने की हड़ताल, उच्च स्तरीय जाॅंच की मांग- उपभोक्ता परिषद

0
573
file photo
  • मध्याॅंचल अन्तर्गत लेसा की बिलिंग व्यवस्था ठप्प होने पर उपभोक्ताओं की समस्याओं के निदान हेतु उपभोक्ता परिषद पहुचा नियामक आयेाग दाखिल किया जनहित प्रत्यावेदन
  • उपभोक्ता परिषद के जनहित प्रत्यावेदन पर आयोग का मुख्य अभियन्ता लेसा को कडे निर्देश
  • अविलम्ब बिलिंग व्यवस्था करायी जाये सुचारू
  • नियामक आयोग का मुख्य अभियन्ता लेसा को यह भी निर्देश बिलिंग आपरेटरों के हडताल के चलते जिन उपभोक्ताओं ने नही जमा कर पाया अपना बिल उनकी निर्धारित जमा तिथि को अविलम्ब आगे बढाया जाये।
  • नियामक आयोग का मुख्य अभियन्ता लेसा को यह भी निर्देश भविष्य में इस प्रकार की न हो उपभोक्ताओं को कोई असुविधा
मध्याॅंचल विद्युत वितरण निगम अन्तर्गत लेसा की बिलिंग व्यवस्था के ठप्प होने की वजह से लेसा के विद्युत उपभोक्ताओं को हो रही असुविधा को लेकर उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने आज नियामक आयोग अध्यक्ष श्री देश दीपक वर्मा व सदस्य श्री एस के अग्रवाल से मुलाकात कर एक जनहित प्रत्यावेदन सौंपा और लम्बी वार्ता की। उपभोक्ता परिषद द्वारा दाखिल जनहित प्रत्यावेदन में यह मुददा उठाया गया कि पिछले 3 दिनों से पूरे लेसा में
बिलिंग केन्द्र के आपरेटरों की हडताल की वजह से बिलिंग व्यवस्था पूरी तरह ठप्प है जिससे विद्युत उपभोक्ता चाह कर भी समय के अन्तर्गत अपना बिजली का भुगतान नही कर पारहे हैं जिसके कारण उन्हें समय अवधि में बिल जमा करने की छूट नही मिल पा रही है। भविष्य में उन पर लेट पेमेन्ट सरचार्ज भी लगना तय है जिससे लेसा के उपभोक्ताओं में काफी आक्रोश है। उपभोक्ता परिषद ने आयोग से ऐसे सभी विद्युत उपभोक्ताओं जो हडताल की वजह से बिजली का बिल नही जमा कर पाये उनकी निर्धारित जमा तिथियों को आगे बढाने की मांग उठायी थी।
उप्र विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष श्री देश दीपक वर्मा व सदस्य श्री एस0 के0 अग्रवाल ने मामले की गंभीरता को देखते हुए अविलम्ब सचिव विद्युत नियामक आयोग को आदेश जारी करने का निर्देश दिया। जिसके क्रम में आयोग के सचिव श्री संजय श्रीवास्तव ने मुख्य अभियन्ता लेसा को यह निर्देश दिया कि ऐसे सभी विद्युत उपभोक्ताओं जिनके द्वारा नियत तिथि पर हडताल के चलते बिल नही जमा किया जा सका उनकी निर्धारित जमा तिथि को अविलम्ब आगे बढाया जाये। और यह भी सुनिश्चित कराया जाये कि लेसा की बिलिंग व्यवस्था पूरी तरह अविलम्ब सामान्य हो जिससे भविष्य में विद्युत उपभोक्ताओं को कोई असुविधा न हो।
उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने कहा लेसा में बिलिंग का काम देख रही एजेन्सी ई-सुविधा पर कडा प्रहार करते हुए कहा ऐसी क्या परिस्थति उत्पन्न की गयी जिसके चलते राजस्व संग्रह का कार्य देख रहे आपरेटरों द्वारा हडताल की नौबत आयी। इसकी भी उच्च स्तरीय जाॅंच होनी चाहिये। यदि किसी भी स्तर पर ई-सुविधा की लापरवाही सामने आये तो ई-सुविधा के खिलाफ भी कठोर कदम अविलम्ब उठाया जाना चाहिये क्योंकि प्रत्येक दिन हडताल की वजह से लगभग 9 करोड राजस्व की हानि हुयी है।