ऊपर वाला अपने साथ है….!

4
1584

गरीबों के असली महानायक

गरीबों के मसीहा बन कर उभरे सोनू सूद ने जिस कदर गरीब प्रवासियों की मदद कर दिल में उतर गए शायद ही ऐसा कोई फिल्म अभिनेता या फिर राजनीतिक नेता हो जिसने इतना बड़ा काम किया हो ! जिससे लोग उन्हें हमेशा याद रखें। ऐसा भी नहीं है कि किसी नेता या फिल्म स्टार या फिर किसी सामाजिक कार्यकर्ता ने इन गरीबों के लिए मदद न किया हो इससे इंकार नहीं, सभी ने अपने स्तर से अच्छा किया। लेकिन जिस प्रकार सोनू सूद चर्चा में आएं वह एक इतिहास बन गया है।

सोनू सूद ने कहा कि इन मजदूरों ने वह घर बनवाये है, जिसमें हम रहते है, उन्होंने वह स्टूडियो बनाये है, जहां हम शूटिंग करते है। इसलिए उन्हें हर सुविधा और सम्मान के साथ उनको मुम्बई से उनके गंतव्य तक भेजा जा रहा है।

उन्होंने अपने धन से बसें लगाई और खाने सुविधा भी दी, श्रमिकों को विदा करने सोनू स्वयं सड़क पर मोर्चा सँभाले रहे। वास्तव में वह पर्दें पर विलन का किरदार निभाते- निभाते सच्ची ज़िंदगी में असली हीरो बन गए।

अभिनेता सोनू सूद का राहत व सेवा कार्य इस समय चर्चा में है। उन्होंने मुम्बई में प्रवासी श्रमिकों को बेहाल देखा होगा। वह मुम्बई छोड़ कर जाना चाहते थे,जाहिर है कि वहां उनके लिए भरण पोषण की पर्याप्त सुविधा नहीं रही होगी। यह अपरोक्ष रूप से महाराष्ट्र सरकार की नाकामी को उजागर करने वाला तथ्य था।

सोनू सूद ने कहा कि इन मजदूरों ने वह घर बनवाये है,जिसमें हम रहते है,उन्होंने वह स्टूडियो बनाये है,जहां हम शूटिंग करते है। इसलिए उन्हें सुविधा और सम्मान के साथ उनको मुम्बई से उनके गंतव्य तक भेजा जा रहा है। उन्होंने अपने धन से बसें लगाई,खाने सुविधा दी,श्रमिकों को विदा करने सोनू स्वयं सड़क पर मोर्चा सँभाले रहे।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here