नवरात्र पर व्यंजन, देवी गीत, देवी रूप धारण करने जैसी शुरू होंगी आनलाइन प्रतियोगिताएं

0
619

पुस्तक मेला समितियों की आनलाइन गतिविधियां: प्रतियोगिताओं का दूसरा चरण आज से

राष्ट्रीय पुस्तक मेला समिति और लखनऊ पुस्तक मेला समिति की ओर से संयुक्त रूप से प्रतियोगिताओं व संगोष्ठी इत्यादि की गतिविधियों का दूसरा चरण कल 17 से 27 अक्टूबर तक आनलाइन चलेगा। इससे पहले प्रथम चरण में पहली से 11 अक्टूबर तक विविध प्रतियोगिताओं के संग संगोष्ठियों व कहानी पाठ के आयोजन किये गये थे।

आयोजक मनोज सिंह चंदेल व आस्था ढल ने बताया कि भले ही कोविड-19 की गाइडलाइन के कारण निर्धारित एक से 11 अक्टूबर को राष्ट्रीय पुस्तक मेला नहीं हो पाया किन्तु इस दौरान हर बार होने वाली प्रतियोगिता और कुछ आयोजन आनलाइन आयोजित हुए। साहित्य प्रेमियों और प्रतिभागियों की मांग को देखते हुए बाल,किशोर और युवा गतिविधियों का यह क्रम ज्योति किरण रतन के संयोजन मे दूसरे चरण में नवीन प्रतियोगिताओं और आयोजनों के साथ 17 से 27 अक्टूबर तक चलेगा। इसके अतिरिक्त संगोष्ठियों के लिए समन्वयकों द्वारा साहित्यिक संस्थाओं के विषिष्ट कार्यक्रमों का चयन चल रहा है।

संयोजिका ज्योति किरन ने बताया कि गायन, वादन, नृत्य, लेखक, चित्रकला, फैंसी ड्रेस आदि के प्रतियोगिताओं के साथ दूसरे चरण में नवरात्र पर कलश सज्जा, रंगोली, पकवान, देवीगीत व भजन गायन, परिधान के संग देवी रूप धारण इत्यादि की प्रतियोगिताओं को जोड़ा गया है। इन प्रतियोगिताओं में 5 से 10 वर्ष, 11 से 15 वर्ष व 16 से 20 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के संग ही हर आयुवर्ग की महिलाओं का महिला वर्ग भी शामिल किया गया है। प्रतियोगी प्रतियोगिताओं के बारे में मोबाइल नम्बर- 9415910781 में जानकारी ले सकते हैं। प्रतिभागियों को अपनी क्लिप फंक आर्ट बाई हार्ट या स्टूडेण्ट आर्ट बाई हार्ट फेसबुक पेज पर शेयर करना होगा।