प्रोजेक्ट निरस्तीकरण पर फैसला सुरक्षित, आयोग ने कहा जनता की राय के बाद होगा अंतिम फैसला

1
203

उपभोक्ता परिषद की लामबंदी आयी काम सोलर पावर की दरों में भारी कमी होना तय


हाई प्रोफाइल अडानी ग्रीन एनर्जी, सहर्स धारा, सुधाकर, अवध, टेक्निकल एसोसिऐट के सोलर प्रोजेक्ट के निरस्तीकरण नोटिस पर नियामक आयोग ने सुनवाई के बाद फैसला किया रिजर्व, कहा पूरे मामले पर पहले जनता की राय लेने के लिये अब की जायेगी सार्वजनिक सुनवाई, फिर होगा अंतिम फैसला
लखनऊ,12 जनवरी। उप्र विद्युत नियामक आयोग में आज पावर कारपोरेशन द्वारा जिन 6 सोलर पावर प्रोजेक्ट मे. अडानी ग्रीन 50 मेगावाट, टेक्निकल एसोसिएट 10 मेगावाट, मे. सहर्स धारा एनर्जी 5 मेगावाट, मे. पेनायकल 5 मेगावाट मे. अवध रबर 5 मेगावाट मे. सुधाकर इनफ्राटेक 5 मेगावाट को निरस्तीकरण का नोटिश दिया गया था उनकी सुनवाई आज विद्युत नियामक आयोग में सम्पन्न हुयी। फैसला सुरक्षित रख लिया गया है। उपभोक्ता परिषद द्वारा सोलर पावर की मंहगी दरों के खिलाफ की गयी लामबंदी का असर आज पूरी तरीके से साफ दिखा नियामक आयोग ने सभी निजी घरानों को दो टूक जवाब दे दिया कि उनके निरस्तीकरण पीपीए पर तभी विचार किया जायेगा जब सभी निजी घराने मार्केट की दर पर सोलर पावर हाउस लगाने पर अपनी हामी भरें। आयोग उनकी मंहगी दरों पर नही करेगा विचार। अब पूरे मामले पर आम जनता की सार्वजनिक सुनवाई के बाद अब आयेाग पूरे मामले पर आगे अंतिम फैसला लेगा।
सुनवाई समाप्त होने के बाद उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने नियामक आयोग अध्यक्ष एस के अग्रवाल से मुलाकात कर सोलर पावर की मंहगी दरों का पुनः विरोध करते हुए अपनी मांग दोहरायी जिस पर नियामक आयोग अध्यक्ष श्री एस के अग्रवाल ने उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष को यह आश्वस्त किया कि आज की सुनवाई में सभी 6 सोलर पावर लगाने वाले निजी घरानों को आयेाग द्वारा दो टूक कह दिया गया है कि जिसे भी उप्र में सोलर पावर प्रोजेक्ट लगाना है न तो उसकी मंहगी दरों पर आयेाग विचार करेगा और न ही अब आयोग विगत दिनों तय टैरिफ रूपया 7.02 प्रति यूनिट पर ही विचार करेगा क्योंकि वर्तमान में सोलर पावर की दरें पूरे देश में मार्केट में बहुत कम दरों पर है ऐसे में सभी निजी घरानों को मार्केट दर पर आना पडेगा। नियामक आयेाग अध्यक्ष ने उपभोक्ता परिषद को यह भी आश्वासन दिया कि अब पूरे मामले पर आम जनता की सार्वजनिक सुनवाई के बाद ही 6 सोलर पावर प्लाण्टों के पीपीए पर आगे का फैसला आयेाग द्वारा किया जायेगा।
उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने कहा अब पूरे देश में मार्केट की दर सोलर पावर पर रूपया 2.44 प्रति यूनिट से रूपया 4 प्रति यूनिट के बीच आ गयी हैं ऐसे में जो भी सोलर पावर प्लांट लगाने वाले निजी घराने उप्र में सोलर पावर का पावर हाउस लगाना चाहते हैं उन्हें भी मार्केट दर पर आना चाहिये। जिस प्रकार से विगत में उप्र में सोलर पावर लगाने वाले निजी घरानों की दरें काफी मंहगी तय की गयी हैं वह पूरी तरीके से प्रदेश के हित के विपरीत है।

1 COMMENT

  1. Hello very nice blog!! Man .. Beautiful ..

    Wonderful .. I will bookmark your blog and take the feeds also?
    I’m satisfied to find so many useful information right here within the publish,
    we need develop extra strategies on this regard, thank you for sharing.
    . . . . .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here