Home प्रेसनोट 5 सालों में विद्युत दुर्घटना से चली गयी 3491 लोगों की जानें...

5 सालों में विद्युत दुर्घटना से चली गयी 3491 लोगों की जानें : उपभोक्ता परिषद

1
479
  • वित्तीय वर्ष 2016-17 में ऊर्जा क्षेत्र के इतिहास में अब तक विद्युत दुर्घटना से सबसे ज्यादा जाने गयी जिनकी संख्या 958।
  • उपभोक्ता परिषद ने विद्युत दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिये नियामक आयोग अध्यक्ष से की मुलाकात और बिजली कम्पनियों पर उठाये सवाल
लखनऊ,22 जनवरी। उप्र में बिजली कम्पनियों की उदासीनता के चलते जिस प्रकार से विद्युत दुघर्टनाओं से आम-जनमानस की जाने जा रहीं वह बेहद चिंताजनक है विगत में उप्र विद्युत सुरक्षा निदेशालय द्वारा केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण को विद्युत दुर्घटना सम्बन्धी वर्ष 2016-17 की जो रिपोर्ट भेजी गयी है उसमें जो खुलासा हुआ है उससे उप्र मे अब तक प्रदेश के ऊर्जा इतिहास में सर्वाधिक विद्युत दुर्घटनाओं मरने वाले व्यक्तियों की संख्या 958 हो गयी है जो यह सिद्ध करता है कि प्रत्येक दिन विद्युत दुर्घटना से लगभग 3 लोगों की जाने पूरे प्रदेश में रोज जा रही यह आकड़े रिपोर्टेड आंकड़े हैं वैसे क्या हाल होगा भगवान ही मालिक।
बढ़ती विद्युत दुघर्टनाओं पर अंकुश लगाने के लिये उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने आज नियामक आयोग अध्यक्ष  एसके अग्रवाल से मुलाकात कर बिजली कम्पनियों के लिये उचित दिशा निर्देश जारी कराने की मांग की और बिजली कम्पनियों की उदासीनता पर गम्भीर सवाल उठाये। जिस पर आयोग अध्यक्ष द्वारा उपभोक्ता परिषद से एक विस्तृत प्रस्ताव मांगा है जिसे जल्द ही उपभोक्ता परिषद आयोग को सौपेगा
उप्र राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष व विश्व ऊर्जा कौंसिल के स्थायी सदस्य अवधेश कुमार वर्मा ने कहा कि प्रदेश में बढ़ती विद्युत दुर्घटनाओं से जहां सैकड़ों व्यक्तियों की जाने जा रही हैं वहीं बड़ी संख्या में बेजुबान जानवर भी मारे जा रहे हैं और साथ ही समय-समय पर किसानों की फसलें भी दुर्घटना में राख हो जाती हैं। विद्युत सुरक्षा निदेशालय द्वारा जारी यह आंकड़े स्वतः बता रहे हैं कि पिछले 5 वित्तीय वर्षों में 3491 लोगों की मृत्यु हुई, जो अपने आप में चिन्ता का विषय है।

विद्युत दूर्घटना वर्ष          घातक विद्युत दुर्घटना     मृतक सॅंख्या


2012-13                   1048                      570


2013-14                   1204                      611


2014-15                   1185                     629


2015-16                   1352                     723


2016-17                   1824                     958
उपभोक्ता परिषद अध्यक्ष ने कहा कि उप्र विद्युत नियामक आयोग द्वारा उपभोक्ता परिषद के एक जनहित प्रत्यावेदन पर वर्ष 2015 में पावर कार्पोरेशन के अध्यक्ष को विद्युत दुर्घटनाओं के मामले पर अंकुस लगाने के निर्देश दिये थे और रिर्पोट तलब की थी इसके बावजूद भी कम्पनियां पूरी तरह से उदासीन हैं। जल्द ही उपभोक्ता परिषद पुनः आयोग के सामने बिजली कम्पनियों की खुलासा करते हुये विद्युत दुर्घटनाओं पर एक विस्तृत कार्य योजन पेश करेगा।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here