‘अच्छे दिन’ के वायदे क्यों नहीं पूरे किये जा रहे हैं: मायावती

0
317

सरकार की मिलीभगत से फरार हो रहे हैं गबन करने वाले : मायावती

लखनऊ, 24 फरवरी। बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को आरोप लगाया कि सरकारी बैंकों के अरबों-खरबों रूपये का गबन करने वाले बडे़ पूंजीपति सरकार की मिलीभगत के कारण देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं. मायावती ने एक बयान में कहा, ‘बड़े-बड़े पूँजीपति व धन्नासेठ अपने निजी स्वार्थ व लाभ के लिए देशहित से घिनौना खिलवाड़ करते हुये सरकारी बैंको का अरबों-खरबों रुपयों का ग़बन कर रहे हैं और सरकार की संलिप्तता के कारण वे देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं।

कोयला जैसी महत्त्वपूर्ण राष्ट्रीय सम्पत्ति का दोहन करने के लिये इसका निजीकरण करना चिन्ता की बात:

उन्होंने कहा कि कुछ मुठ्ठी भर बड़े-बड़े पूँजीपतियों व धन्ना सेठों के हित में तो लगातार काम किये जा रहे हैं, परन्तु देश के सवा सौ करोड़ गरीबों, मजदूरों, किसानों, युवाओं, बेरोजगारों व अन्य मेहनतकश लोगों से किये गये, ’अच्छे दिन’ के वायदे क्यों नहीं पूरे किये जा रहे हैं. जबकि इनमें ही देश का असली हित निहित है.मायावती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा कोयला क्षेत्र का निजीकरण करके निजी कम्पनियों को कोयला खदानों में उत्पादन व इस्तेमाल की अनुमति देने के फैसले को धन्नासेठों का तुष्टीकरण करने की नीति बताया। उन्होंने कहा कि कोयला जैसी महत्त्वपूर्ण राष्ट्रीय सम्पत्ति का दोहन करने के लिये इसका निजीकरण करना चिन्ता की बात हैं।