ओखी के कहर के बीच, पंचतत्त्व में विलीन हुये शशि कपूर

0
480

अमिताभ बच्चन-शाहरुख खान भी हुये शामिल अंतिम संस्कार में

मुंबई,05 दिसम्बर। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता शशि कपूर का निधन सोमवार शाम मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में हुआ। 79 वर्षीय अभिनेता पिछले कई सालों से किडनी से जुड़ी समस्या से गुजर रहे थे। शशि कपूर के निधन की खबर सुनते हैं बीते रोज अमिताभ बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, काजोल,रानी मुखर्जी समेत कपूर खानदान के कई सितारों उनके घर पहुंचे। वहीं, मंगलवार को तेज बारिश के बीच शशि कपूर का पार्थिव शरीर उनके मुंबई स्थित घर से सातांक्रूज हिंदू शमशानघाट ले जाया जा रहा है।

पिता के अंतिम संस्कार के लिए शशि कपूर के बेटे करण कपूर और बेटी संजना यूएस से मुंबई आ चुके हैं। अमिताभ बच्चन,शाहरुख खान,अभिषेक बच्चन,सैफ अली खान,संजय दत्त, अनिल कपूर,नसीरुद्दीन शाह,रतना पाठक शाह समेत कई सेलेब्स शशि कपूर की अंतिम यात्रा में शामिल हुए। शशि कपूर के निधन के बाद से उनक यादगार संवाद दीवार मूवी का मेरे पास मां है। सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

बता दें,18 मार्च 1938 को पृथ्वी राज कपूर के घर में जन्मे शशि कपूर ने बतौर बाल कलाकार काम शुरू किया था। 1961 में वह फ़िल्म धर्म पुत्र से बतौर हीरो बड़े पर्दे पर आए थे, फ़िल्म ‘चोरी मेरा काम’,’फांसी’,’शंकर दादा’,’दीवार’,त्रिशूल,’मुकद्दर’,’पाखंडी’,’कभी-कभी’ और ‘जब जब फूल खिले’ जैसी करीब 116 फिल्मों में अभिनय किया था। जिसमें 61 फिल्मों में शशि कपूर बतौर हीरो पर्दे पर आए और करीब 55 मल्टीस्टारर फिल्मों के हिस्सा बने थे। दीवार’ फिल्‍म में उनका डायलॉग ‘मेरे पास मां है’ आज भी लोगों की जुबान पर रहता है। उनकी मौत के बाद से सोशल पर सबसे अधिक ट्रेड कर रहा है।

शशि कपूर हिन्दी फ़िल्मों में लोकप्रिय कपूर परिवार के सदस्य थे। साल 2015 में उन्हें 2014 के दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया था। इस तरह से वे अपने पिता पृथ्वीराज कपूर और बड़े भाई राजकपूर के बाद यह सम्मान पाने वाले कपूर परिवार के तीसरे सदस्य बने थे। वे बॉलीवुड के रोमांटिक स्टार के तौर पर पहचाने जाते थे और बॉलीवुड की हर खूबसूरत और सुपरहिट हीरोइन के साथ बॉक्स ऑफिस पर कामयाबी हासिल की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here